ब्रेंडन का लचर प्रदर्शन ले डूबा न्यूजीलैंड को

Last Updated: रविवार, 29 मार्च 2015 (16:33 IST)
विश्व कप के बड़े मुकाबले में के कप्तान ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करने के लिए आए न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रेंडन मैक्कुलम पहली गेंद से प्रहार करने की कोशिश में नजर आए व लगतार दो गेंदों में बीट होने के बाद वे क्लीन बोल्ड हो गए और यहीं से न्यूजीलैंड टीम के विकटों का पतझड़ शुरु हुआ जो अंत तक नहीं थम पाया।
 
 मैक्कुलम के आउट होने के बाद एक शतकीय साझेदारी जरूर हुई लेकिन न्यूजीलैंड का वह खेल नहीं दिखा जो उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में दिखाया। न्यूजीलैंड ने मैक्कुलम के आउट होते ही अपने हथियार डाल दिए।   
 
मैक्कुलम ने सेमीफाइनल मैच की ही तरह धुआंधार शुरुआत देनी चाही,लेकिन कहते हैं ना कि हर दिन आपका नहीं होता। ऐसा ही हुआ और मैक्कुलम धराशाई हो गए।    
 
मैक्कुलम अच्छी तरह जानते थे कि स्टार्क इस टूर्नामेंट के सबसे खतरनाक बॉलर हैं ऐसे में अगर वे उन्हें थोड़ी देर थम कर खेलते तो नतीजा शायद कुछ और होता। बहरहाल कप्तान मैक्कुलम की जल्दबाजी भरी बल्लेबाजी ने न्यूजीलैंड के विश्व कप जीतने के सपने को धूमिल कर दिया।     



और भी पढ़ें :