CM योगी का फरमान- स्वास्थ्य विभाग में 50 साल के ऊपर के बाबुओं की होगी छंटनी, 4 सदस्यीय स्क्रीनिंग कमेटी का गठन

अवनीश कुमार| Last Updated: बुधवार, 16 सितम्बर 2020 (10:35 IST)
लखनऊ। उत्तरप्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए योगी सरकार ने में 50 साल व उससे अधिक उम्र के बाबुओं की तलाश शुरू कर दी है और देर रात इन सभी बाबुओं की छंटनी के आदेश भी जारी कर दिए हैं। इसके लिए योगी सरकार ने 4 सदस्यीय स्क्रीनिंग कमेटी का भी किया है। स्क्रीनिंग कमेटी को जल्द से जल्द 50 साल से अधिक उम्र के बाबुओं की कार्यदक्षता और शारीरिक दक्षता के आधार पर स्क्रीनिंग करनी है और फिर उसके बाद छंटनी की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।
ALSO READ:
छत्रपति शिवाजी के नाम पर होगा आगरा का मुगल म्यूजियम, CM योगी ने दिए आदेश
मिली जानकारी के अनुसार उत्तरप्रदेश में योगी सरकार ने देर रात स्वास्थ्य विभाग ने 50 साल से अधिक उम्र के बाबुओं की छंटनी को लेकर आदेश जारी करते हुए कहा है कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधीनस्थ कार्यालयों व चिकित्सालयों में कार्यरत लिपिक संवर्ग के कर्मचारियों की सेवा दक्षता सुनिश्चित करने के लिए अनिवार्य सेवानिवृत्ति के लिए स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी में 4 सदस्य हैं और कमेटी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के 50 वर्ष से अधिक आयु के कार्मिकों की स्क्रीनिंग की कार्रवाई पूरी करते हुए नियुक्ति प्राधिकारी को रिपोर्ट देगी।
लेकिन सरकार के इस आदेश के बाद स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी सरकार के इस आदेश से बेहद नाराज हैं। देर रात जारी इस आदेश के बाद राजनीति भी गरमा गई है। समाजवादी पार्टी ने अपने टि्वटर अकाउंट से सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि '5 साल तक संविदा। 50 साल में जबरन रिटायरमेंट। 5 साल का बहुमत लेकर आई भाजपा साढ़े 3 साल में ही यूपी से रोजगार का खात्मा करने पर आमादा है! किस बात का बदला ले रहे हैं? सीएम दें जवाब...!'



और भी पढ़ें :