गुरुवार, 25 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. काम की बात
  4. Difference between CEO and Managing Director
Written By
Last Modified: गुरुवार, 23 मार्च 2023 (12:37 IST)

क्या होता है CEO और MD में अंतर?

क्या होता है CEO और MD में अंतर? - Difference between CEO and Managing Director
- ईशु शर्मा
 
अक्सर ख़बरों में किसी भी बड़ी कंपनी के सीईओ (Chief Executive Officer) या मैनेजिंग डायरेक्टर (Managing Director) बहुत चर्चा में रहते हैं फिर चाहे वो खबर यूट्यूब के नए CEO नील मोहन की हो या TCS (Tata Consultancy Services) के सीईओ राजेश गोपीनाथन का अपने पद से इस्तीफा देना हो। पर, क्या आपने कभी इन खबर को पढ़ते हुए ये सोचा है कि आखिर CEO और MD में अंतर क्या होता है? चलिए इस आर्टिकल के ज़रिए जानते हैं कि क्या है CEO और मैनेजिंग डायरेक्टर में अंतर- 
 
क्या है CEO और MD में अंतर?
 
आपको बता दें कि CEO और मैनेजिंग डायरेक्टर (managing director) कंपनी के सबसे सीनियर पद होते हैं, पर अक्सर लोग इनकी ड्यूटी को लेकर काफी कंफ्यूज भी रहते हैं। ये दोनों ही पद बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर (Board of Director) के अंतर्गत ही काम करते हैं, पर इन दोनों पद की जिम्मेदारियां काफी अलग होती हैं।
 
CEO कंपनी के दिन-प्रतिदिन की गतिविधयां नहीं देखता बल्कि वो कंपनी की डिजाइनिंग स्ट्रेटेजी (designing strategy) और कंपनी के उद्देश्य पर काम करता है। दूसरी तरफ मैनेजिंग डायरेक्टर कंपनी के दिन-प्रतिदिन की गतिविधियों पर नज़र रखता है और एम्प्लोयी (employee) को काम के लिए प्रेरित करता है। CEO को काम की जिम्मेदारी बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर (board of director) द्वारा दी जाती है जबकि मैनेजिंग डायरेक्टर को काम की जिम्मेदारी CEO देता है।
 
इसके साथ ही CEO शेयरहोल्डर (shareholder) के लिए उत्तरदायी नहीं होता है बल्कि सीईओ कंपनी के लीडर की तरह काम करता है जो कंपनी का मुख्य कम्यूनिकेटर (communicator) होता है। दूसरी तरफ मैनेजिंग डायरेक्टर शेयरहोल्डर के लिए उत्तरदायी होता है पर उसके पास चेक (cheque) या शेयर सर्टिफिकेट (share certificate) पर सिग्नेचर करने के अधिकार नहीं होते हैं। 
CEO की जिम्मेदारी
CEO की जिम्मेदारी है कि वो कंपनी के शेयर प्राइस, मार्किट प्राइस, आय जैसे मुख्य तत्व को बढ़ाए और साथ ही सरकारी एवं गैर-सरकारी संगठन की योजनों पर भी काम करें जिससे कंपनी की गुडविल (goodwill) बढ़े। इसके साथ ही CEO कंपनी के लिए मुख्य फैसले लेता है और स्ट्रेटेजी को डिज़ाइन करता है ताकि कंपनी का उद्देश्य पूरा हो सके।
 
MD की ज़िम्मेदारी
मैनेजिंग डायरेक्टर कंपनी की दिन-प्रतिदिन गतिविधियों को देखता है और इन सबकी रिपोर्ट मैनेजिंग डायरेक्टर सीईओ को प्रदान करता है। इसके साथ ही मैनेजिंग डायरेक्टर को कंपनी के मामलों को संभालने के भी अधिकार होते हैं पर मैनेजिंग डायरेक्टर किसी तरह के चेक (cheque) या शेयर सर्टिफिकेट (share certificate) पर सिग्नेचर नहीं करता है।
 
चलिए इस इंफॉरग्रॅफिक की मदद से जानते हैं CEO और मैनेजिंग डायरेक्टर के अंतर को
ये भी पढ़ें
राहुल गांधी ने कोर्ट में क्या-क्या कहा, क्यों मिली 2 साल की सजा?