मुख्यमंत्री योगी बोले- उत्तर प्रदेश में होगा 80 बनाम 20 फीसदी के बीच चुनाव...

Last Updated: शनिवार, 8 जनवरी 2022 (17:26 IST)
हमें फॉलो करें
लखनऊ। 'सबका साथ सबका विकास, लेकिन तुष्टीकरण किसी का नहीं' को दोहराते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने शनिवार को कहा कि आगामी चुनाव अस्सी बनाम बीस फीसदी के बीच होगा। मुख्यमंत्री योगी ने कहा, बीस फीसदी ने हमेशा विरोध किया है, आगे भी विरोध करेंगे लेकिन सत्ता भाजपा की आएगी।
उन्होंने कहा, 80 फीसदी समर्थक एकतरफ होगा, 20 फीसदी दूसरी तरफ होगा। मुझे लगता है कि 80 फीसदी सकारात्मक ऊर्जा के साथ आगे बढ़ेंगें, जबकि बीस फीसदी ने हमेशा विरोध किया है, आगे भी विरोध करेंगे लेकिन सत्ता भाजपा की आएगी। भाजपा फिर ‘सबका साथ सबका विकास’ के अभियान को आगे बढ़ाने का काम करेगी।

उन्होंने शनिवार को दो दिवसीय दूरदर्शन कान्कलेव के समापन अवसर पर कितना बदला यूपी कार्यक्रम में एक सवाल का जवाब देते हुए हुए कहा, हम लोग जब 2017 में सरकार में आए थे तो हमने एक चीज उस दिन तय कर ली थी कि हमारी सरकार प्रधानमंत्री मोदी के ‘सबका साथ सबका विकास’ के मंत्र को अंगीकार करते हुए कार्य करेगी। हमने विकास योजनाओं का लाभ सबको दिया है, विकास सबका किया है, लेकिन तुष्टीकरण किसी का नहीं किया।

उन्होंने कहा, अगर कोई इसे हमारी कमजोरी मानता है तो यह कमजोरी हमेशा हमारे साथ रहेगी, क्योंकि राष्ट्रवाद हम सबका संस्कार है। अपने इस राष्ट्रवाद के मुद्दे से हम लोग कभी भी विचलित नहीं होंगे। दूसरा, कोई भारत विरोधी तत्व और हिन्दू विरोधी तत्व मोदी जी और योगी को कैसे स्वीकार्य कर लेगा, वह हमें कभी भी स्वीकार्य नहीं करेगा। मैं अपनी गर्दन काटकर के तश्तरी में उसके सामने प्रस्तुत कर दूं तो भी वह मुझे कोसेगा ही। ऐसे तत्वों की हम परवाह नहीं करते हैं।

उन्होंने कहा, मेरी प्रतिबद्धता प्रदेश की 25 करोड़ जनता है, बिना भेदभाव के मुझे उनके लिए कानून का शासन स्थापित करना है और हम लोग उन लक्ष्यों की ओर बढ़ रहे हैं। मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं जो गलतफहमी के शिकार हैं, वे ही अपने आंकड़े प्रदेश में थोपने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन यह चुनाव अस्सी बनाम बीस का होगा, अस्सी फीसदी समर्थक एकतरफ होगा, बीस फीसदी दूसरी तरफ होगा।

की बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, सालभर में जो विद्यार्थी मेहनत नहीं करता है, कक्षा में नहीं जाता है, उसकी समझ में चीजें स्पष्ट नहीं होती है। उसे ज्यादा घबराहट होती है। लेकिन जिसने नियमित रूप से अपनी कक्षाएं की हों, जिसने अपना कार्य समयबद्ध तरीके से आगे बढ़ाया हो और हर एक क्षेत्र में अच्छा करने का प्रयास किया हो तो उसके लिए अपनी उपलब्ध्यिों को लेकर के जाने का उत्साह होता है।

मुख्यमंत्री ने कहा, मुझे लगता हैं कि मैं उन विद्यार्थियों में से हूं जिसने पूरी तन्‍मयता के साथ पार्टी के विजन को पार्टी के लोक कल्याण संकल्प पत्र को जमीनी धरातल पर उतारने का काम किया है।

उन्होंने कहा, के लिए यह धुकधुकी जरूर पैदा होगी कि अगली बार वे विपक्ष में बैठने लायक रहेंगे या नहीं रहेंगे। मुझ जैसे व्यक्तियों के लिए या भारतीय जनता पार्टी के लिए कोई घबराहट नहीं, बल्कि एक उत्सव होगा और चुनाव को हम लोग भी एक उत्सव के रूप में लेकर उसका आनंद भी लेंगे।(भाषा)



और भी पढ़ें :