आम बजट से पहले शेयर बाजारों में रहेगा उतार-चढ़ाव, जानिए क्या बोले एक्सपर्ट्स...

Last Updated: रविवार, 24 जनवरी 2021 (11:38 IST)
नई दिल्ली। से पहले मासिक डेरिवेटिव अनुबंध के निपटान तथा कंपनियों के तिमाही नतीजों के बीच इस सप्ताह में शेयर बाजारों में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है। विशेषज्ञों ने यह राय जताई है। मंगलवार को गणतंत्र दिवस के मौके पर बंद रहेंगे।

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड के खुदरा अनुसंधान प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा, ‘आने वाले दिनों में केंद्रीय बजट तथा मासिक सौदों की समाप्ति से पहले बाजार में उथल-पुथल रह सकती है। कंपनियों के तिमाही नतीजे भी बाजार के उतार-चढ़ाव को बढ़ाएंगे। इस सप्ताह फेडरल रिजर्व की मौद्रिक नीति की भी घोषणा होने वाली है।‘
पिछले सप्ताह गुरुवार को सेंसेक्स पहली बार 50 हजार अंक के स्तर के पार गया। हालांकि, व्यापक मुनाफावसूली और नरम वैश्विक संकेतों के चलते शुक्रवार को सेंसेक्स 746 अंक यानी 1.5 प्रतिशत गिर गया। निफ्टी भी 14,400 अंक के नीचे आ गया।
जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा, ‘सेंसेक्स का 50 हजार अंक छूना न केवल बाजार और निवेशकों के लिए बल्कि अर्थव्यवस्था के लिए भी बहुत अच्छी खबर है। बाजार अर्थव्यवस्था की भविष्य की क्षमता के संकेतक हैं। यदि यह सच है, तो भारतीय अर्थव्यवस्था एक मजबूत पुनरुद्धार की राह पर है।‘

इस सप्ताह जिन कंपनियों के तिमाही परिणाम आने हैं, उनमें यूको बैंक, एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, केनरा बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड, ल्यूपिन, मारुति सुजुकी इंडिया और टाटा मोटर्स शामिल हैं।
सैमको सिक्योरिटीज की वरिष्ठ अनुसंधान विश्लेषक निराली शाह ने कहा, ‘आने वाले दिनों में गतिविधियां बजट के आसपास केंद्रित रहेंगी।‘

रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड के उपाध्यक्ष (शोध) अजीत मिश्रा के अनुसार, ‘बाजार पहले सोमवार को शुरुआती कारोबार में रिलायंस इंडस्ट्रीज के तिमाही नतीजों पर प्रतिक्रिया देगा।‘

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद तिमाही नतीजे जारी किए थे। कंपनी को दिसंबर तिमाही में उम्मीद से बेहतर लाभ हुआ। इस दौरान कंपनी का शुद्ध लाभ 12 प्रतिशत बढ़ा है। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 156.13 अंक या 0.31 प्रतिशत नीचे आया। (भाषा)



और भी पढ़ें :