जसप्रीत बुमराह बने भारत के सबसे सफल टी-20 अंतरराष्ट्रीय गेंदबाज, चहल से निकले आगे

Last Updated: शनिवार, 6 नवंबर 2021 (16:53 IST)
दुबई: तेज गेंदबाज स्कॉटलैंड के खिलाफ में दो विकेट लेने के बाद भारत के लिये इस प्रारूप में सर्वाधिक विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए। उनके नाम अब 64 विकेट हो गए हैं।उन्होंने मार्क वाट को 18वें ओवर में आउट करके यह श्रेय हासिल किया।

इससे पहले भारत के लिये सर्वाधिक टी20 विकेट का रिकॉर्ड के नाम था जिन्होंने 49 मैचों में 63 विकेट लिये हैं।आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के 48 मैचों में 55 विकेट हैं जबकि भुवनेश्वर कुमार के 52 मैचों में 50 और रविंद्र जडेजा के 54 मैचों में 43 विकेट हैं।

आज पहले ही ओवर में जसप्रीत बुमराह अंतिम गेंद पर स्कॉटिश सलामी बल्लेबाज मुंसी के हाथों छक्का खा बैठे थे लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी। टीम इंडिया को स्कॉटलैंड के खिलाफ पहली सफलता उन्होंने ही दिलायी और काएल कोट्जर को बेहतरीन गेंद पर बोल्ड कर दिया।

दिलचस्प बात यह रही कि जसप्रीत बुमराह ने पहले के बाद स्कॉटलैंड का अंतिम विकेट भी लिया। उन्होंने मार्क वॉट को बोल्ड किया हालांकि इसमें वॉट की जल्दी ज्यादा रही जिन्होंने अपने तीनों विकेट बुमराह को दिखा दिए। जसप्रीत बुमराह ने सिर्फ 3.4 ओवरों में 10 रन देकर 2 विकेट लिए।

इससे पहले इस टी-20 विश्वकप में जसप्रीत बुमराह ने ही भारत के विकटों का खाता खोला था। 31 अक्टूबर को न्यूजीलैंड के खिलाफ हुए मैच में बुमराह ने दोनों कीवी ओपनरों को पवैलियन की राह दिखायी थी।

अब तक वह इस टी-20 विश्वकप में भारत की ओर से 5 विकेट ले चुके हैं। भारत को अंतिम मैच 8 नवंबर को नामीबिया के साथ खेलना है। उम्मीद है उस मैच में वह

अपने विकटों का आंकड़ा और आगे ले जाएंगे।

अगर हो सका तो वह भारत को सेमीफाइनल में पहुंचाने में भी अहम भूमिका निभा सकते हैं। लेकिन उसके लिए भारत को रविवार को होने वाले न्यूजीलैंड बनाम अफगानिस्तान मैच का इंतजार करना होग। अगर अफगानिस्तान न्यूजीलैंड को हराएगी तो ही जाकर भारत की सेमीफाइनल खेलने की संभावना बनेगी।
टी-20 रैंकिंग की बात करें तो 538 अंको के साथ जसप्रीत बुमराह 24वें रैंक के गेंदबाज हैं।

बुमराह ने टी-20 अंतरराष्ट्रीय विकेटों के मामले में दिग्गज दक्षिण अफ्रीकाई गेंदबाज डेल स्टेन की बराबरी कर ली है, जिनके नाम 47 पारियों में 64 विकेट हैं, जबकि भारतीय तेज गेंदबाज ने 19.85 के औसत और 6.55 की इकॉनमी से 53 पारियों में यह मुकाम हासिल किया है। इस सूची में हालांकि बंगलादेश के स्टार ऑलराउंडर शाकिब अल हसन शीर्ष पर हैं, जो 93 पारियों में 117 विकेट के साथ दुनिया में सर्वाधिक टी-20 अंतरराष्ट्रीय विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं।

जनवरी 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में टी-20 अंतरराष्ट्रीय में पदार्पण करने वाले बुमराह को टी-20 अंतरराष्ट्रीय में सबसे ज्यादा मेडन ओवर फेंकने का गौरव भी प्राप्त है। उनके नाम आठ ओवर मेडन ओवर हैं। उनके बाद बंगलादेश के मुस्तफिजुर रहमान और श्रीलंका नुवान कुलसेकरा हैं, जिन्होंने टी-20 अंतरराष्ट्रीय में छह मेडन ओवर फेंके हैं।

डेल स्टेन ने बुमराह की इस उपलब्धि पर कहा, “ वह एक अलग तरह के गेंदबाज हैं। उनका सामना करना मुश्किल है। उनके पास क्रीज पर गजब की ताकत है। वह अविश्वसनीय गति से गेंदबाजी कर सकते हैं और बीच में धीमी गति से बल्लेबाज को चकमा भी दे सकते हैं। ”



और भी पढ़ें :