'जाना था "जापान" पहुंच गए चीन', IOC प्रमुख की फिसली जबान तो जमकर हुई किरकिरी

Last Updated: बुधवार, 14 जुलाई 2021 (17:05 IST)
टोक्यो:अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष ने पिछले सप्ताह टोक्यो पहुंचने के बाद मंगलवार को पहली बार सार्वजनिक तौर पर उपस्थिति दर्ज करायी लेकिन इस दौरान अपने संबोधन में उनकी जुबान फिसल गयी और वह ‘जापानी लोगों’ के बजाय ‘चीनी लोगों’ का जिक्र कर गये। बाक ने हालांकि तुरंत ही अपनी गलती सुधार दी थी।
बाक ने यहां पहुंचने के बाद पहले तीन दिन मध्य टोक्यो में एक पंचतारा होटल में बिताये। टोक्यो पहुंचने पर प्रत्येक व्यक्ति की तरह कुछ दिनों तक उनकी गतिविधियां भी बेहद सीमित रही।

उनका पहला पड़ाव आयोजन समिति का मुख्यालय था जहां उन्होंने एक साल बाद दर्शकों के बिना आयोजित किये जा रहे खेलों के बारे में अपनी बात रखी। टोक्यो में कोविड-19 के मामले बढ़ने के कारण आपातकाल लागू है और इसलिए आयोजकों ने स्थानीय दर्शकों को भी स्टेडियमों से दूर रखने का फैसला किया है।
ओलंपिक खेल 23 जुलाई से आठ अगस्त के बीच आयोजित किये जाएंगे जबकि आपातकाल 22 अगस्त तक लागू रहेगा।

बाक ने अपने उदघाटन भाषण में ओलंपिक आयोजन समिति की अध्यक्ष सीको हाशिमोतो और सीईओ तोशिरो मुतो से कहा, ‘‘आपने ओलंपिक खेलों के लिये तोक्यो शहर को सर्वश्रेष्ठ तरीके से तैयार किया है। यह इसलिए भी उल्लेखनीय है क्यों कि हम अभी बेहद मुश्किल परिस्थितियों का सामना कर रहे हैं।’’
उन्होंने कहा, ‘‘अब उद्घाटन समारोह में 10 दिन का समय बचा है। इसका मतलब यह भी है कि अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है।’’

बाक ने इसके बाद जापान के मेजबानों को संबोधित करते हुए ‘जापानी लोगों’ के बजाय ‘चीनी लोगों’ कह दिया लेकिन जल्द ही उन्होंने इसमें सुधार भी कर दिया।
उन्होंने कहा, ‘‘हम सभी का मुख्य लक्ष्य हर किसी, हमारे खिलाड़ियों, हमारे प्रतिनिधिमंडल और सबसे महत्वपूर्ण चीनी लोगों – जापानी लोगों के लिये सुरक्षित खेलों का आयोजन करना है।’’
बाक के भाषण को दुभाषिया अंग्रेजी से जापानी अनुवाद कर रहा था। उनकी जुबान फिसली लेकिन दुभाषिये ने ऐसा नहीं किया। इसके बावजूद जापानी मीडिया ने इसकी रिपोर्ट कर दी जिसके बाद सोशल मीडिया पर इसको लेकर कड़ी प्रतिक्रिया हुई।

टोक्यो में तीन स्मारक का अनावरण

टोक्यो 2020 ओलंपिक की आयोजन समिति ने मंगलवार को तीन स्मारकों का अनावरण किया जिन्हें 2011 जापान भूकंप से सबसे अधिक प्रभावित तोहोकु के तीन प्रांतों और शेष विश्व के बीच के संबंध के रूप में डिजाइन किया गया है।

इन स्मारकों का निर्माण आपदाग्रस्त क्षेत्रों में बनाए गए अस्थाई घरों में बनी खिड़कियों के फ्रेम में इस्तेमाल एम्युमीनियम का पुनर्नवीनीकरण करके किया गया है।
इन स्मारकों में खिलाड़ियों को समर्थन के संदेश लिखे गए हैं। तोहोकु के फुकुशिमा, मियागी और इवाते प्रांतों के माध्यमिक और उच्च विद्यालय के छात्रों का धन्यवाद संदेश भी इनमें लिखा गया है।

खेलों के दौरान ये स्मारक तोक्यो में नए ओलंपिक स्टेडियम के साथ लगी ‘मेइजी मेमोरियल पिक्चर गैलरी’ के सामने प्रदर्शित किए जाएंगे।(एपी)



और भी पढ़ें :