IPL 2022 के बाद अचानक टी-20 क्रिकेट क्यों खेलने लगे रविचंद्रन अश्विन

पुनः संशोधित शनिवार, 11 जून 2022 (17:18 IST)
हमें फॉलो करें
चेन्नई: व्यस्त आईपीएल सत्र के बाद रविचंद्रन अश्विन क्लब टीम के लिये खेलने की तैयारी में जुटे हैं और भारत के इस अनुभवी स्पिनर का कहना है कि एक जुलाई से इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले पांचवें टेस्ट से पहले लाल गेंद के क्रिकेट में खुद को ढालने के लिये उन्होंने यह फैसला लिया है।

भारतीय टीम 15 जून को इंग्लैंड रवाना होगी जहां एडबस्टन में लीसेस्टरशर के खिलाफ अभ्यास मैच खेलना है।अश्विन ने टीएनसीए प्रथम श्रेणी सेमीफाइनल और फाइनल में एमआरसी ए के लिये खेलने का फैसला किया है। आईपीएल में वह राजस्थान रॉयल्स टीम में थे जो फाइनल तक पहुंची थी।

उन्होंने कहा ,‘‘ प्रथम श्रेणी मैच खेलने का मकसद टी20 से लाल गेंद के प्रारूप में ढलना है। यह सब कार्यभार प्रबंधन की बात है। उम्र और अनुभव के साथ आप चतुर होते जाते हैं।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ मैं वही करने की कोशिश कर रहा हूं ।मैं अपने खेल का मजा ले रहा हूं और इंग्लैंड में भी वही करना चाहता हूं। मुझे लगता है कि मैं बल्ले और गेंद से योगदान दे सकता हूं। मैं अपनी फिटनेस पुख्ता रखना चाहता हूं।’’

हाल ही में भारत के लिये सर्वोच्च विकेट लेने वाले अनिल कुंबले (619 विकेट) के बाद दूसरे गेंदबाज (442) बने अश्विन ने कहा ,‘‘मैने अपने खेल पर बहुत मेहनत की है और मैं बहुत सोचता हूं। मैं अपने खेल से खुश हूं और बहुत आगे के लक्ष्य नहीं बनाता।’’

IPL 2022 में रविचंद्रन अश्विन ने एक ऑलराउंडर की भूमिका निभाई थी। टीम ने जब एक बार अश्विन को तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा तो उन्होंने अर्धशतक जड़ दिया। हालांकि यह टूर्नामेंट रविचंद्रन अश्विन के लिए गेंद से निराशाजनक ही रहा। लेकिन अब टेस्ट की बारी है जिसमें अश्विन बेस्ट गेंदबाज है और दूसरी रैंकिंग पर काबिज हैं।



और भी पढ़ें :