राष्ट्रीय खेल 2018 की मेजबानी चाहता है उत्तराखंड

नई दिल्ली| पुनः संशोधित गुरुवार, 6 नवंबर 2014 (18:39 IST)
नई दिल्ली। ने 2018 में होने वाले 38वें राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी करने की इच्छा जताई है और अगले महीने होने वाली अपनी आमसभा की बैठक (जीबीएम) में इस पर फैसला करेगा। 
 
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पिछले महीने आईओए महासचिव राजीव मेहता को भेजे गए पत्र में 38वें राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी में दिलचस्पी दिखाई। रावत ने 30 अक्टूबर को भेजे गए पत्र में कहा, आपसे आग्रह है कि 38वें राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी का जिम्मा उत्तराखंड राज्य को दिया जाए और यहां के वर्तमान आधारभूत ढांचे का जायजा लेने के लिए विशेषज्ञों का दल यहां भेजने की व्यवस्था की जाए। हमें अतिरिक्त सुविधाओं के बारे में सुझाव दें ताकि राष्ट्रीय खेलों के जरूरी स्तर के अनुरूप आधारभूत ढांचा तैयार किया जा सके।  
 
मेहता ने कहा कि राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी का अधिकार देने का फैसला आईओए की में किया जाएगा क्योंकि मेजबान राज्य को अमूमन तीन साल का समय दिया जाता है। 
 
उत्तराखंड ओलंपिक संघ के भी अध्यक्ष मेहता ने कहा, हमने मुख्यमंत्री के पत्र का जवाब दिया है और उनसे जरूरी औपचारिकताएं पूरी करने के लिए कहा है। हमने उन्हें कैबिनेट की मंजूरी और ढाई करोड़ रुपए की बैंक गारंटी राशि जमा करने के लिए कहा है ताकि हम आगे फैसला कर सकें। (भाषा)
 



और भी पढ़ें :