भारत का मुकाबला पाकिस्तान से

इंचियोन| पुनः संशोधित बुधवार, 24 सितम्बर 2014 (16:24 IST)
इंचियोन। वर्ष 2016 रियो ओलंपिक में सीधे प्रवेश करने और 16 साल बाद पुरुष हॉकी का स्वर्ण हासिल करने की कोशिश में जुटे को गुरुवार को यहां 17वें एशियाई खेलों के रोमाचंक मुकाबले में कड़ी परीक्षी से गुजरना होगा, जहां उसकी भिड़ंत चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से होगी।
2 बार के विजेता भारत और 8 बार के स्वर्ण पदकधारी पाकिस्तान के बीच यह अहम मुकाबला टूर्नामेंट के लीग चरण का मुख्य आकर्षण होगा। इनमें से जो टीम सियोनहाक हॉकी स्टेडियम में दबावभरे हालात में बेहतर प्रदर्शन करेगी, उसे ही जीत दर्ज करनी चाहिए।

भारत और पाकिस्तान दोनों ने 2-2 जीत दर्ज कर ली हैं, हालांकि पाकिस्तान 1 अतिरिक्त गोल कर पूल तालिका में शीर्ष पर चल रहा है।

भारत ने टूर्नामेंट में यहां अपने अभियान की शुरुआत 1982 नई दिल्ली एशियाड के बाद एशियाई खेलों में भाग ले रही श्रीलंका पर 8-0 की शानदार जीत से की। इसके बाद उसने कमजोर ओमान को 7-0 से पराजित किया।

रूपिंदर पाल सिंह ने भारत के लिए चार पेनल्टी कॉर्नर गोल किए और एक गोल पेनल्टी स्ट्रोक से किया। वे और वीआर रघुनाथ टीम के लिए गुरुवार को वाले मैच में अहम होंगे।

फॉरवर्ड पंक्ति ने कमजोर प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ काफी दमखम और जोर दिखाया है और उन्हें पाकिस्तान जैसी टीमों के खिलाफ भी इसे कायम रखना चाहिए जिसकी फॉरवर्ड लाइन भी प्रभावशाली है जिसने उसके पिछले मैचों में जीत के बेहतरीन खेल दिखाया था। (भाषा)



और भी पढ़ें :