मंगलवार, 31 जनवरी 2023
  1. खेल-संसार
  2. अन्य खेल
  3. समाचार
  4. Ankit Mukherjee, ISL, ATK, Delhi Dynamo
Written By
पुनः संशोधित सोमवार, 4 मार्च 2019 (14:21 IST)

अंकित के गोल से एटीके ने अंतिम लीग मैच में दिल्ली को हराया

कोलकाता। अंकित मुखर्जी 70वें मिनट में मैदान पर आए और मेजबान एटीके के लिए विजयी गोल दागकर हीरो बन गए। अंकित के गोल की मदद से एटीके ने रविवार को यहां सॉल्ट लेक स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के अपने अंतिम लीग मैच में दिल्ली डायनामोज को 2-1 से हरा दिया।

 
 
यह इस सीजन का अंतिम लीग मैच था और इस तरह एटीके ने सीजन की शुरुआत केरल ब्लास्टर्स के खिलाफ इसी मैदान पर 29 सितम्बर को हार के साथ की थी और इसका समापन वह जीत के साथ करने में सफल रहा। 18 मैचों में यह एटीके की छठी जीत है और अब उसके 24 अंक हो गए हैं। वह एफसी पुणे सिटी (21) को पार करते हुए अंक तालिका में छठे स्थान पर पहुंच गया है। इसी के साथ उसने सुपर कप का टिकट हासिल कर लिया है। 
 
दूसरी ओर, दिल्ली की टीम की यह इस सीजन की आठवीं हार है। इस सीजन में दिल्ली को दोनों ही मैचों में एटीके से हार मिली। अपने घर में भी उसे इसी अंतर से हार मिली थी। दिल्ली और एटीके के बाच यह 10वां मैच था। चार बार एटीके जीता है जबकि चार मुकाबले बराबरी पर छूटे हैं। दो में दिल्ली की जीत हुई है। दिल्ली की टीम अंतिम रूप से आठवें स्थान पर रही। 
पहला हाफ गोलरहित बराबर रहने के बाद दूसरे हाफ की शुरुआत में दिल्ली के लिए लालियानजुआला चांग्ते ने अच्छा प्रयास किया लेकिन वह गोलकीपर को नहीं छका सके। एटीके ने 51वें और 52वें मिनट में दो अच्छे मूव बनाए लेकिन पहला मौका कालू उचे के ऑफ साइड होने के कारण निकल गया जबकि दूसरे मौके में कोमल थटाल और इदु बेदिया दिल्ली के डिफेंस की सुस्ती का फायदा नहीं उठा सके। 
 
थटाल 59वें मिनट में भी गेंद लेकर दिल्ली के बॉक्स में पहुंचे लेकिन इस बार भी वह अपनी भूमिका को अंजाम तक नहीं पहुंचा सके। मेजबान टीम लगातार हमले कर रही थी और इसका फायदा उसे 63वें मिनट में मिला। जब गार्सिया ने हेडर पर गोल करते हुए उसे 1-0 से आगे कर दिया। गार्सिया ने यह गोल प्रीतम कोटाल के क्रास पर किया। 
 
दिल्ली ने इसके बाद एक के बाद एक तीन बदलाव किए। अंदर आने वालों में नंदकुमार सेकर, मोहम्मद धूत और रेने मिहेलिक शामिल हैं। जाहिर था, कोच गोम्बोउ मैदान पर मौजूद खिलाड़ियों से खुश नहीं थे। बाहर जाने वालों में राना घिरामी भी शामिल हैं, जो गार्सिया को हेडर लेने से नहीं रोक सके थे। इस बीच, एटीके ने अपना पहला बदलाव किया। थटाल बाहर गए और अंकित मुखर्जी अंदर लिए गए। 
 
इसी बीच, स्थानापन्न के तौर पर 67वें मिनट में मैदान पर आए सेकर ने 72वें मिनट में गोल करते हुए दिल्ली को बराबरी पर ला दिया। 74वें मिनट में एटीके ने उचे को बाहर कर बलवंत सिंह को अंदर लिया। दिल्ली के मिहेलिक 77वें मिनट में अपनी टीम को बढ़त दिलाने के काफी करीब थे लेकिन इस बार अरिंदम उनसे अधिक फुर्तीले साबित हुए। 83वें मिनट में दिल्ली के उलीसे डेविला को पीला कार्ड मिला। 
 
ऐसा लग रहा था कि मैच बराबरी पर छूटेगा लेकिन इसी बीच गार्सिया के पास पर अंकित ने गोल करते हुए मैच का रुख बदल दिया। अंकित के रिफलेक्स पर दिल्ली के गोलकीपर डोरोनसोरो बिल्कुल भी प्रतिक्रिया नहीं दिखा सके। (वार्ता)
ये भी पढ़ें
एकदिवसीय क्रिकेट रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंची झूलन