गांगुली महान एकदिवसीय खिलाड़ी

भाषा|
नई दिल्ली। भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा कि गांगुली महान एकदिवसीय खिलाड़ी के रूप में खेल को अलविदा जरूर कहा, लेकिन निरंतरता में कमी के कारण बाएँ हाथ के इस स्टायलिश बल्लेबाज के बारे में टेस्ट क्रिकेट में ऐसा नहीं कहा जा सकता।

सोमवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले बंगाल के इस खिलाड़ी के बारे में गावस्कर ने कहा मुझे लगता है कि उन्होंने जितने रन बनाए हैं, उन्होंने जितने 'मैन ऑफ द मैच' जीते हैं, उससे वनडे स्तर पर वह महान खिलाड़ी हैं, लेकिन टेस्ट में उनका स्तर थोड़ा कम है क्योंकि उनके प्रदर्शन में निरंतरता नहीं थी।

गावस्कर का मानना है कि भारत कुछ समय बाद एक और गांगुली ढूँढ लेगा, लेकिन महान स्पिन गेंदबाज अनिल कुंबले का विकल्प ढूँढने में टीम को परेशानी होगी।
उन्होंने कहा कि गांगुली और कुंबले का विकल्प ढूँढना आसान नहीं होगा। उनका अनुभव बहुमूल्य है, लेकिन मेरा मानना है कि 600 विकेट के कारण कुंबले का विकल्प ढूँढना गांगुली से अधिक मुश्किल होगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :