श्रीकृष्ण ने बसाए थे ये तीन नगर...

अनिरुद्ध जोशी|
हमें फॉलो करें
द्वारिका : द्वारिका का पूर्व में नाम कुशवती था, जो उजाड़ हो चुकी थी। श्रीकृष्ण ने इसी स्थान पर नए नगर का निर्माण करवाया। कंस वध के बाद श्रीकृष्ण ने गुजरात के समुद्र के तट पर द्वारिका का निर्माण कराया और वहां एक नए राज्य की स्थापना की।
 
कालांतर में यह नगरी समुद्र में डूब गई जिसके कुछ अवशेष अभी हाल में ही खोजे गए हैं। अभी गुजरात में उक्त द्वारिका के समुद्री तट पर ही भेंट द्वारिका और द्वारका बसी हैं। हिन्दुओं के 4 धामों में से एक द्वारिका धाम को द्वारिकापुरी मोक्ष तीर्थ कहा जाता है। स्कंद पुराण में श्रीद्वारिका महात्म्य का वर्णन मिलता है।
 
मथुरा से निकलकर ने द्वारिका क्षेत्र में ही पहले से स्थापित व खंडहर हो चुके नगर क्षेत्र में एक नए नगर की स्थापना की थी। कहना चाहिए कि भगवान कृष्ण ने अपने पूर्वजों की भूमि को फिर से रहने लायक बनाया था लेकिन आखिर ऐसा क्या हुआ कि द्वारिका फिर नष्ट हो गई? 
 
अगले पन्ने पर दूसरा नगर...
 



और भी पढ़ें :