यूनान को 12 वर्ष बाद एथलेटिक्स में स्वर्ण

रियो डि जेनेरियो| पुनः संशोधित शनिवार, 20 अगस्त 2016 (13:18 IST)
हमें फॉलो करें
रियो डि जेनेरियो। यूनान की एकातेरिनी स्टेफानिदी ने रियो महिला पोल वॉल्ट स्पर्धा का स्वर्ण पदक हासिल कर लिया है, जो उनके देश का एथेंस ओलंपिक 2004 के बाद एथलेटिक्स में पहला स्वर्ण पदक है।
 
स्टेफानिदी ने 4.85 मीटर से अमेरिका की सांडी मोरिस को हराकर स्वर्ण पर कब्जा किया। सांडी को रजत पदक मिला। न्यूजीलैंड की 19 वर्षीय एलिजा मैककाटर्नी ने 4.80 मीटर मार्क के साथ अपने राष्ट्रीय रिकॉर्ड की बराबरी करते हुए कांस्य पदक पर कब्जा किया। 
 
इससे पहले पोल वॉल्ट में 2 बार की महिला ओलंपिक चैंपियन रूस की येलेना इसिनबायेवा ने अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के एथलीट आयोग का सदस्य चुने जाने के बाद अचानक संन्यास की घोषणा कर सभी को चौंका दिया। 
 
उन्हें डोप के कारण ओलंपिक खेलों से बैन कर दिया गया था जिसके बाद उन्होंने कहा कि जो भी पोल वॉल्ट में स्वर्ण जीतेगा उसके कोई मायने नहीं होंगे, क्योंकि वे असल चुनौती के लिए स्पर्धा का हिस्सा नहीं हैं।
 
यूनानी खिलाड़ी ने येलेना के बयान की आलोचना करते हुए कहा कि हर खिलाड़ी यहां जीतने आता है और उन्हें हरा सकता है। मौजूदा स्थिति ऐसी है और हम इस बारे में कुछ नहीं कर सकते हैं। 
 
26 वर्षीय स्टेफानिदी अमेरिका में रहती हैं और जैसे ही उन्होंने 4.85 मीटर का मार्क पार किया, वे खुशी से जश्न मनाने लगीं। उन्होंने कहा कि मैंने अपने देश को गौरवान्वित किया है। यह बहुत अच्छा है। 24 वर्षीय मोरिस ने भी 4.85 मीटर का मार्क पार किया लेकिन पिछले कई प्रयास फेल रहने के बाद वे दूसरे स्थान पर रहीं। 
 
लंदन ओलंपिक की स्वर्ण पदक विजेता और बीजिंग ओलंपिक की रजत पदक विजेता अमेरिका की जैनिफर सुहर बीमार होने के बावजूद स्पर्धा में उतरीं और 4.60 मीटर का 1 ही वॉल्ट कर सकीं। (वार्ता) 



और भी पढ़ें :