दिवाली 2019 : दीपावली पर ऐसे हुआ था अयोध्या में श्रीराम का भव्य स्वागत

diwali
अनिरुद्ध जोशी|
भगवान श्रीअपना 14 वर्ष का वनवास पूरा करने के बाद पुन: लौट आए थे। कहते हैं कि वे सीधे अयोध्या न जाते हुए पहले नंदीग्राम गए थे और वहां कुछ दिन रुकने के बाद दीपावली के दिन उन्होंने अयोध्या में प्रवेश किया था। इस दौरान उनके लिए खासतौर पर नगर सजाया गया था।
1. श्रीराम के अयोध्या लौटने की तिथि पर इतिहासकारों में मतभेद हैं, लेकिन परंपरा के अनुसार कार्तिक अमावस्या अर्थात दीपावली को भगवान श्रीराम अपना 14 वर्ष का वनवास पूरा करके अयोध्या लौटे थे।

2. रावण का वध करने के बाद लंका से अयोध्या लौटते समय राम, लक्ष्मण, सीता एवं हनुमानजी पुष्पक विमान से अयोध्या के पास नंदीग्राम नामक स्थान पर उतरे थे, जहां पर राम की खड़ाऊं रखकर राजा भरत अपना राजपाट चलाते थे।
3. कहते हैं कि नंदीग्राम में कुछ समय रहने के बाद भगवान श्रीराम का दीपावली के दिन अयोध्या नगर में आगमन हुआ तो सभी शहरवासी उनके आगमन और स्वागत के लिए उमड़ पड़े।

4. अयोध्यावासियों ने श्रीराम के लौटने की खुशी में दीप जलाकर खुशियां मनाई गईं। संपूर्ण शहर का रंग-रोगन कर उसको दीपकों से सजाया गया था।

5. सभी पुरुष, बच्चे और महिलाएं नए वस्त्रों में सजे-धजे थे। मिठाइयां बांटी जा रही थीं और उत्सव मनाया गया। तुलसीदासजी ने रामचरित मानस के उत्तरकांड में इस घटना का सुंदर चित्रण किया है।


और भी पढ़ें :