चैत्र नवरात्रि के शुभ संयोग, किस महायोग में शुरू होगी देवी की आराधना

Navratri Durga Worship
Chaitra navratri shubh sanyog 2022 : 2 अप्रैल 2022 को चैत्र माह की नवरात्रि प्रारंभ होग जिसे बड़ी नवरात्रि या वसंत नवरात्रि भी कहते हैं। आओ जानते हैं इस नवरात्रि के शुभ संयोग, मुहूर्त और और महायोग।


चैत्र नवरात्रि 2022 कब है- : इस साल चैत्र नवरात्रि 2 अप्रैल 2022, शनिवार से प्रारंभ होकर 11 अप्रैल 2022, सोमवार को समाप्त होगी। 10 अप्रैल 2022 को रविवार के दिन राम नवमी मनाई जाएगी। इस मान से नवरात्रि 9 दिन की ही होगी।


चैत्र नवरात्रि कलश स्थापना का 2022 के मुहूर्त- Chaitra navratri ghatasthapana ka subha muhurt : चैत्र नवरात्रि पर कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त 02 अप्रैल को सुबह 06.10 मिनट से 08.29 मिनट तक रहेगा। चैत्र नवरात्रि घटस्थापना मुहूर्त की कुल अवधि- 02 घंटे 18 मिनट।
शुभ योग : इस दिन इन्द्र, वैधृति योग के साथ ही प्रजापति (धाता) योग रहेगा। मीन में बुधादित्य योग रहेगा। 2 अप्रैल को शनि, मंगल और शुक्र की युति से त्रिग्रही योग है।

प्रतिपदा तिथि : आरम्भ अप्रैल 1, 2022 को 11:56:15 से समापन अप्रैल 2, 2022 को 12:00:31 पर। इस दिन राहुकाल सुबह 08:55:34 से 10:28:46 तक रहेगा। इसीलिए चैत्र नवरात्रि पर कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त 02 अप्रैल को सुबह 06.10 मिनट से 08.29 मिनट तक रहेगा।
अभिजीत मुहूर्त : सुबह 11:37 से दोपहर 12:27 तक।

विजय मुहूर्त : दोपहर 02:06 से 02:56 तक।

गोधूलि मुहूर्त : शाम 06:02 से 06:26 तक।

सायाह्न संध्या मुहूर्त : शाम 06:15 से 07:24 तक।

निशिता मुहूर्त : रात्रि 11:38 से 12:24 तक।



और भी पढ़ें :