चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने से पंजाब की आधी आबादी को खतरा,BJP ने MeToo के आरोपों को बनाया मुद्दा

Author विकास सिंह| Last Updated: सोमवार, 20 सितम्बर 2021 (12:19 IST)
में चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाकर ने पिछले कई महीनों से जारी उठापटक दूर करने की कोशिश की है। चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनाने के कांग्रेस के फैसले को लेकर अब भाजपा ने सवाल भी उठा दिए है।
मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनाने के कांग्रेस पर फैसले पर घेरते हुए कहा कि जिस कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष महिला है उसने ऐसे व्यक्ति को मुख्यमंत्री बनाया है जिन पर महिलाओं ने कई संगीन आरोप लगाए है। एक महिला अफसर ने आरोप लगाया हो और पंजाब महिला आयोग ने कार्रवाई की मांग की थी।


अमरिंदर सिंह जी ने सिद्धू से देश को खतरा बताया था लेकिन चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने से तो पंजाब की आधी आबादी को खतरा हो गया है।

दरअसल पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी जब अमरिंदर सरकार में मंत्री थे तब वह
‘मीटू’ मामले में फंस चुके है। साल 2018 में उन पर एक महिला आईएएस अधिकारी को अश्लील मैसेज देने का आरोप लगा था और पंजाब महिला आयोग ने स्वत: संज्ञान लेते हुए उनको तलब भी किया था। उस समय पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने चन्नी को महिला अधिकारी से माफी मांगने को कहा था। इस पर पार्टी के भीतर मौजूद असंतुष्टों की ओर से कैप्टन पर पुराने मामलों को लेकर परेशान करने का आरोप भी लगाया गया था।



और भी पढ़ें :