महंगाई के मुद्दे पर विपक्षी सदस्यों का हंगामा, लोकसभा की कार्यवाही बाधित

पुनः संशोधित सोमवार, 8 मार्च 2021 (19:37 IST)
नई दिल्ली। समेत कई विपक्षी दलों के सदस्यों के पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों में बढ़ोतरी के मुद्दे पर हंगामे के कारण सोमवार को लोकसभा की कार्यवाही करीब शाम 5 बजकर 15 मिनट पर 7 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।
लोकसभा के दिवंगत सदस्यों मोहन एस डेलकर और नंदकुमार सिंह चौहान तथा 7 पूर्व सदस्यों को श्रद्धांजलि देने के साथ स्थगित होने के बाद शाम 5 बजे जब सदन की आरंभ हुई तो विपक्षी सदस्य महंगाई के मुद्दे को लेकर नारेबाजी करने लगे। हंगामे के बीच सदन के पटल पर आवश्यक दस्तावेज रखे गए।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने विपक्षी सदस्यों से नारेबाजी और शोर शराबा बंद करने और महिला सशक्तीकरण के मुद्दे पर चर्चा होने देने की अपील की। उन्होंने कहा, आज महिला दिवस है। महिला सदस्य ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर चर्चा करना चाहती हैं। आज यह सदन महिलाओं को समर्पित होगा।

हम चाहते हैं कि यह आसन महिला को समर्पित हो तथा महिला सांसद महिला सशक्तीकरण के मुद्दे पर चर्चा करें।इस दौरान सदन में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि महिला सशक्तीकरण पर चर्चा के साथ महिला आरक्षण विधेयक पारित किया जाए।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कई बार कहा है कि इस विधेयक को पारित किया जाए। चौधरी ने कहा कि इसके साथ ही पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों की बढ़ोतरी पर भी चर्चा की जाए। विपक्षी सदस्यों की नारेबाजी के बीच, संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि आपने (स्पीकर) यह बहुत अच्छा फैसला है कि सदन में महिला सशक्तीकरण पर चर्चा होगी।

अगर विपक्ष के लोग चाहते हैं तो ध्यानाकर्षण प्रस्ताव को नियम 193 में बदला जा सकता है। महिला सशक्तीकरण के बारे में चर्चा है तो मेरी अपील है कि महिलाओं को सम्मान दें और महिला सशक्तीकरण दिवस पर चर्चा हो। उन्होंने कहा कि सभी पार्टियों को महिलाओं से आग्रह है कि वे इसमें भाग लें।

शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि महंगाई बढ़ रही है, ऐसे में महिलाओं के मुद्दे पर चर्चा के साथ पेट्रोल, डीजल और गैस की कीमतों बढ़ोतरी पर भी चर्चा की अनुमति दी जाए। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पेट्रोल-डीजल पर पंजाब में सबसे ज्यादा कर कांग्रेस की प्रदेश सरकार लगा रही है। कांग्रेस सदस्यों को वहां के बारे में भी बोलना चाहिए।

सदन में नारेबाजी जारी रहने पर बिरला ने करीब शाम 5 बजकर 15 मिनट पर सात बजे तक के लिए स्थगित कर दी। इससे पहले, सदन की बैठक शाम चार बजे आरंभ होने पर निचले सदन के वर्तमान सदस्यों मोहन एस डेलकर और नंदकुमार सिंह चौहान तथा सात पूर्व सदस्यों राजेंद्र कुमार शर्मा, शरद कार, एमआर कदमबुर जनार्थनन, एम देवीकन, महावीर भगोरा, कैप्टन सतीश शर्मा और डी पांडियन के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। इसके बाद चार बजकर करीब 10 मिनट पर सदन की कार्यवाही पांच बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।(भाषा)



और भी पढ़ें :