शाहीनबाग में 70 दिन बाद खुला एक रास्ता, वार्ता का असर

Last Updated: शनिवार, 22 फ़रवरी 2020 (18:21 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों ने नोएडा-फरीदाबाद को जोड़ने वाली एक सड़क को खोल दिया है।
दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारी करीब 2 महीने बाद नोएडा-फरीदाबाद नंबर 9 को जोड़ने वाली सड़क को खोल दिया है।

सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त वार्ताकार साधना रामचंद्रन और वकील संजय हेगड़े के समझाने के बाद प्रदर्शनकारी इस सड़क को खोलने को तैयार हुए हैं।

खबरों के अनुसार पुलिस ने शनिवार शाम को सड़क के एक तरफ से बैरिकेडिंग खोल दी है। इसके बाद यहां से गाड़ियों की आवाजाही शुरू हो चुकी है। खबरों के मुताबिक केवल एक तरफ से सड़क खुलने के चलते फिलहाल यहां ट्रैफिक काफी धीमा है।

चौथे दिन शनिवार सुबह वार्ताकार रामचंद्रन यहां पहुंचीं और उन्होंने प्रदर्शनकारियों को रास्ता खोलने के लिए समझाया। प्रदर्शनकारियों ने वार्ताकार के सामने 7 मांगें रखते हुए कहा कि जब तक वापस नहीं लिया जाता, तब तक रास्ते को खाली नहीं किया जाएगा।
(Photo courtesy: Twitter)



और भी पढ़ें :