कल्याण सिंह के निधन पर राजनाथ, अमित शाह, नड्डा ने दी श्रद्धांजलि

Last Updated: रविवार, 22 अगस्त 2021 (21:09 IST)
नई दिल्ली। ने के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के पर शोक जताते हुए कहा कि उन्होंने अपने व्यक्तित्व व कृतित्व से समाज पर एक अमिट छाप छोड़ी तथा उनके निधन से आई रिक्तता की भरपाई लगभग असंभव है।
सिंह ने सिलसिलेवार में कहा, कल्याण सिंह उत्तर प्रदेश ही नहीं भारतीय राजनीति की वह कद्दावर हस्ती थे, जिन्होंने अपने व्यक्तित्व एवं कृतित्व से देश और समाज पर एक अमिट छाप छोड़ी। उनका लम्बा राजनीतिक जीवन जनता-जनार्दन की सेवा में समर्पित रहा। वे उत्तर प्रदेश के अत्यंत लोकप्रिय मुख्यमंत्री के रूप में जाने गए।

उन्होंने कहा कि जनसंघ के समय से ही कल्याण सिंह ने भाजपा को मजबूत बनाने और समाज के हर वर्ग तक पहुंचाने के लिए कड़ी मेहनत की। उन्होंने कहा, श्रीरामजन्मभूमि आंदोलन में भी उनकी महती भूमिका के लिए उन्हें यह देश हमेशा याद रखेगा। उनका निधन भारतीय राजनीति के लिए बड़ी क्षति है और मेरे लिए तो यह बहुत ही पीड़ादायक क्षण है।

राजनाथ सिंह ने कहा कि कल्याण सिंह के निधन से उन्होंने अपना बड़ा भाई और साथी खोया है। उन्होंने कहा, उनके निधन से आई रिक्तता की भरपाई लगभग असम्भव है। ईश्वर उनके शोक संतप्त परिवार को दुःख की इस कठिन घड़ी में धैर्य और संबल प्रदान करे।

केंद्रीय ने जताया शोक : केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन पर शनिवार को शोक जताया और कहा कि वह एक ऐसे विराट वटवृक्ष थे जिनकी छाया में भारतीय जनता पार्टी का संगठन पनपा और उसका विस्तार हुआ। शाह ने कहा कि कल्याण सिंह के निधन से पार्टी में ऐसी रिक्तता आई है जिसे लंबे समय तक भर पाना संभव नहीं है।

कल्याण सिंह को एक सच्चा राष्ट्रभक्त, ईमानदार व धर्मनिष्ठ राजनेता करार देते हुए शाह ने कहा, सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के एक सच्चे उपासक के रूप में उन्होंने जीवनभर देश व जनता की सेवा की। उन्होंने कहा कि कल्याण सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में अपनी कर्तव्यनिष्ठा व राजनीतिक कौशल से सुशासन की संकल्पना को साकार कर जनता को भय व अपराध से मुक्त एक जनकल्याणकारी शासन दिया और शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व सुधार कर आने वाली सरकारों के लिए उत्कृष्ट आदर्श भी स्थापित किए।

उन्होंने कहा, जन-जन के हृदय में बसने वाले प्रखर राष्ट्रवादी आदरणीय कल्याण सिंह जी जैसा महान व्यक्तित्व ढूंढने पर विरले ही मिलता है। बाबूजी ने अपनी कर्मठता से विभिन्न संवैधानिक पदों पर रहते हुए किसान, गरीब और वंचित वर्ग को विकास की मुख्यधारा से जोड़कर देश की प्रगति में अपना अनुपम योगदान दिया।

शाह ने कहा कि कल्याण सिंह राष्ट्र, धर्म व जनता को समर्पित ऐसे विराट व आदर्शपूर्ण शख्सियत थे, जिनके निधन से देश व समस्त भाजपा परिवार शोकाकुल है। उन्होंने कहा, यह देश व आने वाली पीढ़ियां उनके वृहद योगदान के लिए सदैव ऋणी रहेंगी।

शाह ने कहा कि वह ना सिर्फ भाजपा के वरिष्ठ नेता रहे बल्कि रामजन्मभूमि आंदोलन के नायक भी थे। उन्होंने कहा कि कल्याण सिंह ने हमेशा पिछड़े समाज के हितों की रक्षा की लड़ाई लड़ी और विधानसभा से लेकर संसद तक उनकी आवाज बुलंद की।

नड्डा बोले- भारतीय राजनीति में एक युग का अंत हुआ : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जे पी नड्डा ने उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन को भारतीय राजनीति में एक युग का अंत करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि उन्होंने राष्ट्रहित और जनकल्याण को सर्वोपरि रखा तथा कभी भी अपने आदर्शों से समझौता नहीं किया।

नड्डा ने एक ट्वीट में कहा, कल्याण सिंह ने सदैव गरीबों और वंचित वर्ग के कल्याण व अधिकारों हेतु संघर्ष किया।उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन में हमेशा राष्ट्रहित और जनकल्याण को सर्वोपरि रखा। उनके पुत्र राजवीर सिंह और परिवारजनों के प्रति गहरी शोक संवेदना।

लाखों कार्यकर्ताओं को पार्टी की सेवा के लिए तैयार करने वाले ‘बाबू जी’ की छवि सदैव हमारे मन-मस्तिष्क में विराजमान रहेगी। कल्याण सिंह जी ने देश की राजनीति को नई दिशा दिखाई।(भाषा)




और भी पढ़ें :