मंगलवार, 7 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Nitish Kumar on bjp decision of the people of the country will come in 2024
Written By
Last Updated: शनिवार, 3 सितम्बर 2022 (21:09 IST)

नीतीश कुमार ने किया BJP पर वार- 2024 में देश की जनता का निर्णय आएगा, तब पता चलेगा

पटना। मणिपुर में जनता दल युनाइटेड के पांच विधायकों के प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा कि आप सोच लीजिए क्या हो रहा है। अन्य पार्टियों के लोगों को अपनी तरफ लाना और खींचना क्या ये संवैधानिक है। उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि 2024 में देश की जनता का निर्णय आएगा, तब पता चलेगा। भाजपा को अपने बारे में चिंता करनी चाहिए। मणिपुर के 5 विधायक जदयू छोड़कर शुक्रवार को सत्तारूढ़ भाजपा में शामिल हो गए थे। प्रदेश में पार्टी की 6 सीटें थीं।
 
दरअसल, बिहार की राजधानी पटना में राज्य में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड (जदयू) की दो दिवसीय बैठक प्रदेश मुख्यालय में चल रही है। नीतीश कुमार ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मणिपुर में जितने हमारे विधायक हैं, सभी छह विधायक यहां आए। भाजपा से अलग होने के निर्णय पर उन्होंने खुशी जाहिर की थी, और कहा था कि हमलोग साथ हैं।
 
उन्होंने कहा कि आप समझ लीजिए हो क्या रहा है। ये किस तरह से किसी पार्टी के निर्वाचित लोगों को अपनी तरफ ले रहे हैं। जब हमलोग गठबंधन (राजग) में साथ थे, किसी (भाजपा विधायक) को अपने दल में शामिल किया। यह कौन-सा स्वभाव है। यह किस प्रकार का काम है। इस तरह का कोई चीज क्या पहले (पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के समय) से चलता रहा है।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि एक नए ढंग का... इस तरह का काम किया जा रहा है। उसमें क्या है। वे सभी (मणिपुर के जदयू के विधायक) कुछ ही दिन पहले यहां आए थे। परसों खबर किया था, आज के बारे में कि वे लोग यहां आ रहे हैं, और उनको पकड़कर अपने दल में शामिल करा लिया।
 
उन्होंने कहा कि इससे क्या फर्क पड़ता है। एक बात तो साबित हो रही है कि ये किस तरह का काम कर रहे हैं। दूसरी पार्टी के लोगों को अपने दल में शामिल कराना क्या संवैधानिक है। क्या यह कोई सही काम है।
 
यह पूछे जाने पर कि भाजपा का कहना है जिसको जहां मन होता है, जाता है, नीतीश ने कहा कि क्या अन्य पार्टियों पार्टी को खत्म कर देंगे। किसी दल के जो अन्य राज्यों में जीतते हैं, उनको अपनी तरफ कब्जा करना यही सोचते हैं, यही काम है।
 
विपक्षी दलों के नेताओं से मुलाकात के लिए 5 सितंबर को दिल्ली जाने की चर्चा के बारे में नीतीश ने कहा कि वह दिल्ली जाएंगे।
 
इससे पूर्व जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने कहा कि मणिपुर में जो कुछ भी हुआ, उसके लिये वहां धन-बल का प्रयोग किया गया है।
 
ललन ने कहा कि भाजपा ने मणिपुर में वही किया जो उसने पहले दिल्ली, झारखंड, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में किया था।
 
लगभग चार दशकों से नीतीश कुमार के साथ जुड़े ललन ने कहा कि भाजपा चाहे जो भी चाल चले, वह 2023 तक जदयू को राष्ट्रीय पार्टी बनने से नहीं रोक पाएगी।
 
उन्होंने कहा कि 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा और किसी ने 42 रैलियों को संबोधित नहीं किया लेकिन पार्टी 243 सदस्यीय विधानसभा में केवल 53 सीटें ही जीत सकी थी। उन्हें 2024 में अपने भाग्य के बारे में सोचना चाहिए। पूरा विपक्ष उनके खिलाफ एकजुट होगा।
 
50 सीटों पर सिमट जाएगी बीजेपी : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी 50 सीटों पर सिमट जाएगी और सभी विपक्षी दल मिलकर चुनाव लड़ें, मैं इसी अभियान में लगा हूं।
 
कुमार ने अपनी पार्टी जदयू की राज्य कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते हुए यहां यह बात कही जिसके तुरंत बाद पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई।
 
उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग प्रदेश में सांप्रदायिक एवं सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने का कार्य करेंगे और हम सभी को पंचायत स्तर तक पूरी सावधानी बरतनी है।
 
जदयू की ओर से जारी बयान में अनुसार पार्टी के शीर्ष नेता नीतीश ने आरोप लगाया कि 2020 के विधानसभा चुनाव में भाजपा के षडयंत्र से हमारी सीटें कम हो गयी। मैं स्वंय मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहता था पर उनके आग्रह पर तैयार हो गया क्योंकि शुरू से ही बिहार का विकास मेरी प्राथमिकता रही है।
 
उन्होंने कहा कि 2005 में मुझे बिहार की सेवा करने का मौका मिलने के बाद से शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, बिजली और पानी हर क्षेत्र में तथा अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन-जाति, पिछड़े-अतिपिछड़े, अल्पसंख्यक वर्गों के कल्याण, महिला सशक्तीकरण व आर्थिक दृष्टि से कमजोर अगड़ी जातियाँ, सबके लिए प्रभावकारी कार्य किए गए हैं।
 
जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा की अध्यक्षता में प्रदेश कार्यालय के कर्पूरी सभागार में हुयी राज्य कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते हुये पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह सांसद राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने कहा कि हमारी पार्टी तीन राज्यों में मान्यता प्राप्त राजनैतिक दल है, अगले वर्ष हम राष्ट्रीय पार्टी बन जाएंगे।
 
बिहार में राजद, कांग्रेस सहित सात दलों के साथ नई महागठबंधन सरकार बनाने वाली जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पूर्व सहयोगी दल भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा, ‘‘भाजपा ने मणिपुर में हमारे पांच विधायकों को तोड़कर अपने चरित्र का परिचय दिया है। आने वाले समय में जदयू इसका माकूल जवाब देगी। 
 
वहीं जदयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह विधान पार्षद उपेन्द्र कुशवाहा ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा हमारे दल को लगातार तोड़ने का प्रयास करती रही है। उन्होंने कहा कि 2024 में जदयू उन्हें हाशिए पर लाने का काम करेगी।