ADB ने जताया अनुमान, भारत की अर्थव्यवस्था में रहेगी 7.5 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद

Last Updated: बुधवार, 6 अप्रैल 2022 (09:34 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने बुधवार को वित्त वर्ष 2022-23 में दक्षिण एशियाई अर्थव्यवस्थाओं के लिए 7 प्रतिशत के सामूहिक विकास का अनुमान लगाया जिसमें क्षेत्र की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था भारत के चालू वित्त वर्ष में 7.5 फीसदी और अगले वर्ष 8 प्रतिशत की दर से बढ़ने की उम्मीद है।
ALSO READ:

7-8 साल में दोगुनी हो सकती है अर्थव्यवस्था, नीति आयोग ने जताई उम्‍मीद

'एशियाई विकास आउटलुक' (एडीओ) 2022 को जारी करते हुए मनीला स्थित 'मल्टी-लेटरल फंडिंग एजेंसी' ने कहा कि 2023 में 7.4 प्रतिशत तक पहुंचने से पहले दक्षिण एशिया में विकास 2022 में धीमा होकर 7 फीसदी तक होने का अनुमान है। क्षेत्र में विकास की गतिशीलता काफी हद तक भारत और पाकिस्तान पर निर्भर करती है।
एजेंसी ने में कहा कि दक्षिण एशियाई अर्थव्यवस्थाओं के 2022 में सामूहिक रूप से 7 प्रतिशत और 2023 में 7.4 फीसदी तक बढ़ने की उम्मीद है। क्षेत्र की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था भारत के चालू वर्ष में 7.5 प्रतिशत और अगले वित्त वर्ष में 8 फीसदी की दर से बढ़ने की उम्मीद है।
रिपोर्ट के मुताबिक 2023 में 4.5 प्रतिशत तक बढ़ने से पहले के कारण पाकिस्तान की वृद्धि 2022 में मध्यम से 4 प्रतिशत तक रहने का अनुमान है। एडीबी ने कहा कि विकासशील एशिया की अर्थव्यवस्थाओं में घरेलू मांग में मजबूत सुधार और निर्यात में निरंतर विस्तार के कारण इस साल 5.2 प्रतिशत और 2023 में 5.3 प्रतिशत वृद्धि होने का अनुमान है।



और भी पढ़ें :