गुरुवार, 29 फ़रवरी 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Hardeep Singh Puri's taunt on the arrest of Sukhpal Singh Khaira
Written By
Last Updated :नई दिल्ली , शुक्रवार, 29 सितम्बर 2023 (18:16 IST)

खैरा की गिरफ्तारी पर पुरी का विपक्षी गठबंधन पर तंज, पूछा- क्या यही है मोहब्बत की दुकान?

खैरा की गिरफ्तारी पर पुरी का विपक्षी गठबंधन पर तंज, पूछा- क्या यही है मोहब्बत की दुकान? - Hardeep Singh Puri's taunt on the arrest of Sukhpal Singh Khaira
Hardeep Singh Puri : पंजाब के विधायक सुखपाल सिंह खैरा (Sukhpal Singh Khaira) की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) के बीच जारी आरोप-प्रत्यारोप के बीच केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने शुक्रवार को तंज कसते हुए कहा कि 'यह उनकी मोहब्बत की दुकान है' और यह साफ दिखाता है कि पंजाब और दिल्ली में विपक्षी गठबंधन 'इंडिया' बिखर रहा है।
 
कांग्रेस विधायक खैरा को पंजाब पुलिस ने 2015 के मादक पदार्थ तस्करी मामले में गुरुवार सुबह गिरफ्तार किया था। उनकी गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस ने पंजाब और दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) पर निशाना साधा है। कांग्रेस और आप दोनों विपक्षी गठबंधन 'इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस' यानी 'इंडिया' के घटक दल हैं।
 
एक कार्यक्रम से इतर कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी के बारे में पूछे जाने पर पुरी ने कहा कि यह 'कांग्रेस और आप की मोहब्बत की दुकान' है। मैं इसमें हस्तक्षेप नहीं करना चाहता, लेकिन मैं आपको बताना चाहता हूं कि यह पंजाब और दिल्ली में बिखर रहा आईएनडीआई गठबंधन है।
 
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी अक्सर भाजपा की आलोचना करने के लिए 'नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोलने' का उल्लेख करते रहे हैं। इससे पहले आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि उनकी पार्टी विपक्षी गठबंधन 'इंडिया' के लिए प्रतिबद्ध है और वह इससे अलग नहीं होगी।
 
उन्होंने कहा कि आप (पार्टी) इंडिया गठबंधन के लिए प्रतिबद्ध है। हम गठबंधन से अलग नहीं होंगे। हम गठबंधन धर्म को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। खैरा की गिरफ्तारी पर केजरीवाल ने कहा कि मैंने इसके बारे में सुना है लेकिन मेरे पास विस्तृत जानकारी नहीं है। आपको पंजाब पुलिस से बात करनी होगी। कांग्रेस की पंजाब इकाई पहले ही 2024 के संसदीय चुनावों के लिए राज्य में आप के साथ किसी भी गठबंधन का विरोध कर चुकी है।(भाषा)
 
Edited by: Ravindra Gupta
ये भी पढ़ें
आखिर क्‍यों यूक्रेन के खिलाफ नर्म पड़ रही है रूस की हेकड़ी?