G7 summit: श्लोस एल्माउ का भारत से भी है जुड़ाव, भगवान गणेश के नाम पर है एक रेस्तरां

Last Updated: सोमवार, 27 जून 2022 (22:42 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। जर्मनी में चल रहे जी7 शिखर सम्मेलन के आयोजन स्थल का से भी है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि श्लोस एल्माउ पर भारतीय प्रभाव का श्रेय इसके मालिक डाइटमार मुलर को दिया जाता है, जो अपनी युवावस्था में भारत में रहते थे और धर्मार्थ गतिविधियों में शामिल थे। उन्होंने सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में भी निवेश किया था।
Koo App
जर्मनी में #G7Summit पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन और कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो के साथ प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी। #joebiden #narendramodi

- Aman Shrivastava (@aman_shrivastava13GK05) 27 June 2022
अधिकारियों ने बताया कि एक रेस्तरां का नाम भगवान श्री गणेश के नाम पर भी रखा गया है। उन्होंने कहा कि वहां कई योग और कल्याण केंद्रों में भारतीय नाम हैं जिनमें आनंद स्पा रेस्तरां, जीवमुक्ति योग स्टूडियो और शांतिगिरी स्पा शामिल हैं।
उन्होंने कहा कि मुलर ने भारत के साथ अपने गहरे संबंधों के बारे में बात करते हुए कहा कि वहां व्यक्तिगत स्वतंत्रता बहुत स्पष्ट है। श्लोस एल्माउ में पूरे वर्ष कई संगीत समारोहों का आयोजन किया जाता है और जर्मनी तथा अन्य यूरोपीय देशों के भारतीय शास्त्रीय संगीत के प्रशंसक भारतीय कलाकारों के संगीत का आनंद लेने के लिए श्लोस एल्माउ जाते हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :