विज्ञान कांग्रेस में बोले मोदी- विज्ञान से मिलेगी गरीबी कम करने में मदद

Last Updated: शनिवार, 3 जनवरी 2015 (11:47 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को यहां 102वां भारतीय का उद्घाटन किया। उद्घाटन के बाद पीएम कहा, गरीबी दूर करने में विज्ञान का अहम रोल है। विज्ञान से गरीबी और बेरोजगारी दूर करने में मदद मिलेगी।
 
>
उन्होंने कहा, इस समारोह में शामिल होने पर गर्व हो रहा है। वैज्ञानिकों के काम से प्रभावित हूं। देश में विज्ञान को बढावा देना लक्ष्य है। विज्ञान की मदद से शांति मुमकिन है। विज्ञान की कोई सीमा नहीं होती। देश के विकास में विज्ञान का अहम रोल है। विज्ञान दुनिया को और करीब लाता है। विज्ञान से आधुनिक भारत का सपना पूरा होगा।
 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय विज्ञान कांग्रेस में कहा, स्कूल जाने के अधिकार की ही तरह डिजीटल संपर्क भी एक बुनियादी अधिकार बन जाना चाहिए। हमने विज्ञान और प्रौद्योगिकी को अपने राजनयिक संपर्कों में सबसे आगे रखा है। सबसे ऊपर हमें विज्ञान एवं वैज्ञानिकों के गौरव और सम्मान को बहाल करना होगा, विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार को राष्ट्रीय प्राथमिकताओं में शीर्ष पर रखना होगा। अनुसंधान करने की सहूलियत उतनी ही महत्वपूर्ण है जितनी कारोबार करने की सहूलियत।
 
इस बार विज्ञान कांग्रेस का थीम 'मानव विकास के लिए विज्ञान और तकनीकी' है। साइंस कांग्रेस का मुख्य आकर्षण 'प्राइड ऑफ इंडिया' प्रदर्शनी है। जिसमें भारत में विकसित अहम तकनीकी, उत्पाद और सेवाओं को दिखाया जा रहा है। साइंस कांग्रेस में करीब 12 हजार प्रतिनिधियों के अलावा कुछ नोबेल पुरस्कार विजेता भी हिस्सा ले रहे हैं। यह कार्यक्रम 3 से 7 जनवरी तक चलेगा।
 



और भी पढ़ें :