सरकारी कर्मचारियों के लिए बुरी खबर, महंगाई भत्ता बढ़ाने के कमलनाथ के फैसले पर रोक

Author विकास सिंह| Last Updated: शुक्रवार, 3 अप्रैल 2020 (19:59 IST)
भोपाल। कोरोना संकट के बीच शिवराज सरकार ने प्रदेश के लाखों कर्मचारियों को बड़ा झटका दिया है। शिवराज सरकार ने पिछली कमलनाथ सरकार के उस फैसले पर रोक लगा दी है जिसमें अधिकारियों और कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में पांच फीसदी की बढ़ोत्तरी की गई थी।
पिछले दिनों प्रदेश में मचे सियासी घमासान के बीच तत्कालीन कमलनाथ सरकार ने कर्मचारियों को बड़ी सौगात देते हुए उनके महंगाई भत्ते में करीब पांच फीसदी की वृद्धि की थी।

इस फैसले के बाद अधिकारी कर्मचारी को एक अनुमान के मुताबिक एक हजार से लेकर छह हजार तक मिलने वाला फायदा अब नहीं मिल सकेगा। बताया जा सरकार ने प्रदेश की खस्तामाली हालत को देखते हुए ये फैसला किया है।

वहीं अपनी सरकार के फैसले पर रोक लगाए जाने को लेकर कमलनाथ ने भाजपा सरकार पर
निशाना साधा है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर शिवराज सरकार
को कठघरे में खड़ा करते हुए लिखा कि हमारी सरकार ने प्रदेश के लाखों कर्मचारियों की मांग को पूरा करते हुए उनके हित में एक ऐतिहासिक फैसला लिया था, लेकिन शिवराज सरकार ने आते ही इस आदेश के क्रियान्वयन पर रोक लगाकर अपने कर्मचारी विरोधी सोच को उजागर कर दिया है।

उन्होंने तत्काल इस फैसले पर लगी रोक को हटाने की मांग करते हुए अपनी सरकार के फैसले को अविलंब लागू करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि अगर सरकार ने फैसला नहीं बदला तो पार्टी इस तानाशाही फैसले का पूरी ताकत से विरोध करेगी।




और भी पढ़ें :