खाकी को सलाम: दतिया में थाना प्रभारी ने जान जोखिम में डालकर बच्चे को बचाया

Author विकास सिंह| Last Updated: मंगलवार, 10 अगस्त 2021 (18:16 IST)
बाढ़ से प्रभावित ग्वालियर-चंबल संभाग के दतिया जिले से खाकी के हौंसले और जज्बे की एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जिसको देखकर लोगों के मन में पुलिस के प्रति सम्मान और बढ़ गया है। जिले के चिरूला थाना प्रभारी गिरीश शर्मा ने नदी में डूबते बच्चे की न केवल जान बचाई बल्कि अपनी जान जोखिम में डालकर उसे समय रहते इलाज के लिए अस्पताल भेजा।



दरअसल दतिया जिले में बाढ़ के चलते अंगूरी नदी अपने पूरे उफान पर है। बताया जा रहा है कि रविवार को एक बच्चा जो नदी किनारे बकरी चराने गया था वह नदी में डूबने लगा। बच्चे की डूबने की सूचना मिलते ही चिरूला थाना प्रभारी गिरीश शर्मा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर कर आनन-फानन में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर बच्चे को नदी से बाहर निकाला। नदी से निकाले गए बच्चे की स्थिति गंभीर थी और उसे तुरंत इलाज की जरूरत थी।
बच्चे की हालत देख थाना प्रभारी ने बच्चे को गोद में लेकर गाड़ी की ओर दौड़ लगा दी लेकिन पुलिस की गाड़ी रेलवे क्रांसिग के पार खड़ी थी और मालगाड़ी आने के चलते क्रांसिग बंद थी। इधर शरीर में पानी अधिक होने के चलते बच्चे की स्थिति बिगड़ने लगी यह देखे थाना प्रभारी ने तुरंत बंद रेलवे क्रांसिग के नीचे से तेजी से निकलते हुए बच्चे को गाड़ी तक पहुंचाया और बच्चे को लेकर टीम तुरंत अस्पताल पहुंची। बच्चे का इलाज करने वाले डॉक्टरों का कहना है कि अगर थोड़ी से और देर हो जाती तो बच्चे की जान नहीं बच पाती।
वहीं अब सोशल मीडिया पर टीआई की सूझबूझ और बच्चे को बचाने वाला वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वहीं सूबे के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने थाना प्रभारी गिरीश शर्मा समेत पूरी पुलिस टीम को बधाई देते हुए सम्मानित करने की बात कही है।



और भी पढ़ें :