रीवा में जनपद CEO मारपीट मामले में भाजपा विधायक केपी त्रिपाठी से संगठन नाराज, भोपाल तलब

विशेष प्रतिनिधि| पुनः संशोधित बुधवार, 17 अगस्त 2022 (19:22 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। रीवा के सिरमौर जनपद के सीईओ सुरेश मिश्रा पर जानलेवा हमले में केपी त्रिपाठी की मुश्किलें बढ़ गई है। पूरे मामले में भाजपा संगठन ने भाजपा विधायक केपी त्रिपाठी को भोपाल तलब किया है। इसके साथ भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि ऐसी घटनाओं को बर्दाश्त नही किया जाएगा। उन्होंने उज्जैन में महाकाल मंदिर में हंगामे के मामले में भाजपा युवा मोर्चा के पदाधिकारियों पर हुई कार्रवाई का हवाला दिया।



कांग्रेस ने विधायक को घेरा-वहीं जनपद सीआई से के मामले को लेकर अब कांग्रेस सड़क पर उतर आई है। रीवा में कांग्रेस जनपद सीईओ के पक्ष में उतर आई है। कांग्रेस के जिला अध्यक्ष गुरमीत सिंह मंगू ने आरोप लगाया है की सेमरिया विधायक केपी त्रिपाठी सत्ता के नशे में मारपीट कर रहे है। कांग्रेस के नेता इस मामले में सेमरिया विधायक केपी त्रिपाठी सहित दोषियों पर कार्यवाही की मांग को लेकर एसपी और कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे और दोषियों पर जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर ज्ञापन भी सौंपा है। कांग्रेस नेताओं का कहना है की जल्द ही इस मामले में अगर कोई कार्यवाही नही होती तो रीवा जिले का घेराव जनता के साथ किया जाएगा।
कर्मचारियों ने भी खोला मोर्चा-सिरमौर जनपद सीईओ एसके मिश्रा पर हमले के विरोध में
जनपद पंचायत सिरमौर के अधिकारी और कर्मचारियों ने भी मोर्चा खोल दिया है। आज कर्मचारियों ने कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचकर रीवा कलेक्टर मनोज पुष्प से मिलकर ज्ञापन सौंपा और आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की। कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि अगर दोषियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे।
क्या है पूरा मामला?- रीवा जिले के सिरमौर जनपद सीईओ एसके मिश्रा पर मंगलवार को हथियारबंद बदमाशों ने जानलेवा हमला किया था जिसमें उनको गंभीर चोट आई थी। जनपद सीईओ पर जानलेवा हमले का आरोप भाजपा विधायक केपी त्रिपाठी पर लगा था। इन आरोपों के बीच भाजपा विधायक केपी त्रिपाठी और जनपद सीईओ का एक ऑडियो भी वायरल हुआ था जिसमें वह जनपद सीईओ को धमकाते हुए नजर आए थे। पीड़ित जनपद सीईओ सुरेश मिश्रा ने पुलिस को अपनी शिकायत में बताया है कि सिब्बू शुक्ला विवेक गौतम,विनय शुक्ला सहित 18 से 20 लोगों ने उनपर हमला कर दिया और उनके साथ मारपीट की।



और भी पढ़ें :