एक भी ICC ट्रॉफी नहीं जीत पाए हैं कप्तान कोहली, WTC फाइनल है करियर के लिए अहम

Last Updated: बुधवार, 16 जून 2021 (19:16 IST)

कप्तान के तौर पर विराट कोहली पहली बार आईसीसी चैंपियन्स ट्रॉफी 2017 में खेले थे। फैंस के दिलों में आज भी याद ताजा होगी कैसे फाइनल में विराट कोहली को बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने लगभग दो बार आउट कर दिया था। पहले उनका कैच छूटा और दूसरी बार वह कैच आउट हो ही गए।

इसके बाद विराट कोहली ने एशिया कप 2018 के मल्टीनेशनल टूर्नामेंट से आराम लिया। इस कप के फाइनल में ने बांग्लादेश को रोमांचक मुकाबले में अंतिम गेंद पर 7 विकेट से हराया।

साल 2019 में सभी फैंस विराट कोहली से उम्मीद लगाए बैठे थे कि वह भारतीय टीम के लिए विश्वकप लेकर आएंगे। विश्वकप से दो कदम दूर विराट कोहली फ्लॉप हो गए। के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ट्रैंट बोल्ट ने उनको पगबाधा आउट कर भारत को तगड़ा झटका दिया। नतीजा यह रहा कि भारत फाइनल में नहीं पहुंच पाया।

इस कारण विराट कोहली के लिए आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल बहुत अहम हो जाता है क्योंकि विराट कभी भी आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीत पाए हैं। वैसे तो भारतीय टीम को आईसीसी टूर्नामेंट जीते हुए एक अरसा हो गया। आखिरी बार भारतीय टीम आईसीसी चैंपियन्स ट्रॉफी 2013 जीती थी जब महेंद्र सिंह धोनी टीम इंडिया के कप्तान थे।

कई बार कप्तानी पर उठ चुके हैं सवाल

विराट कोहली की कप्तानी और टीम सिलेक्शन भी कई बार सवालों के घेरे में रहा है। कई पूर्व क्रिकेटर विराट कोहली की कप्तानी से खुश नहीं है और कई बार कप्तानी में उनके विकल्प की बात करते हैं। वनडे क्रिकेट में तो कई बार लोगों ने विराट की जगह रोहित को कप्तानी सौंपने की पैरवी की ही है।

टेस्ट क्रिकेट में भी विराट का विकल्प कई बार सुर्खियों में रहा है। खासकर तब जब विराट कोहली की गैरमौजूदगी में भारतीय टीम चोटों और अनुभव की कमी से लड़ते हुए ऑस्ट्रिलिया को उस ही की मांद में 2-1 से बोर्डर गावस्कर सीरीज जीत लायी थी। इस सीरीज के बाद यह बात कही जा रही थी कि रहाणे को ही टीम इंडिया की कमान सौंप देनी चाहिए लेकिन बोर्ड विराट की कप्तानी के साथ अडिग है। अब देखना होगा कि आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में विराट कैसी कप्तानी करते हैं।

टेस्ट चैंपियनशिप के विराट के लिए बहुत मायने हैं : बिशप

वेस्ट इंडीज के लीजेंड तेज गेंदबाज इयान बिशप का मानना है कि 18 जून से के साउथम्पटन में होने वाला आईसीसी का फाइनल भारतीय कप्तान विराट कोहली के लिए बहुत मायने रखता है क्योंकि वह अभी तक अपनी कप्तानी में कोई आईसीसी खिताब नहीं जीत पाए हैं।

बिशप ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के आधिकारिक प्रसारक स्टार स्पोर्ट्स द्वारा इस सन्दर्भ में आयोजित वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा,' विराट के लिए इस फ़ाइनल के बहुत मायने हैं। वह टीम का अपने प्रदर्शन से नेतृत्व करते हैं जो एक अच्छे कप्तान की निशानी है। वह एक ऐसे बल्लेबाज हैं जो अपने गेम में अपने विपक्षी केन विलियम्सन और एक दो खिलाड़ियों के साथ टॉप पर हैं लेकिन यह एक छोटा सा समूह है। विराट को काफी खेलना है क्योंकि हमें यह याद रखना होगा कि भारत इस समय महामारी के कैसे दौर से गुजर रहा है इसलिए जब खिलाड़ी बात करते हैं कि वे अपने देश के लिए खेल रहे हैं तो इसका कुछ मतलब भी होता है। अब आप जब भारत के लिए खेल रहे हैं तो आप उन लाखों करोड़ों लोगों के लिए खेल रहे हैं जो भारत में महामारी से पीड़ित हैं लेकिन मुझे लगता है कि विराट इस खिताब को हर हाल में चाहते होंगे क्योंकि अपनी कप्तानी में उन्होंने इतना अच्छा काम किया है। उनका अपने तेज गेंदबाजों में विश्वास खेल के माहौल को एक अलग ही स्तर पर ले जाता है। इस ट्रॉफी को अपने कैबिनेट में अपने लिए , अपनी टीम के लिए और अपने देश के लिए रखना इसके बदले कुछ और हो ही नहीं सकता। '



और भी पढ़ें :