उमर अकमल ने PCB को जुर्माने के तौर पर दिए 45 लाख रुपए, यह लगा था आरोप

Last Updated: बुधवार, 26 मई 2021 (14:40 IST)

कराची:के विवादास्पद ने (पीसीबी) के पास 45 लाख रुपये जुर्माना भर दिया है जिससे वह अब बोर्ड की भ्रष्टाचार निरोधक इकाई के पुनर्वास कार्यक्रम में भाग लेने के हकदार बन गये हैं।
पीसीबी के सूत्रों ने पुष्टि की कि खेल पंचाट ने अकमल पर जो जुर्माना लगाया था, उन्होंने उसे पीसीबी में जमा कर दिया है। खेल पंचाट ने फरवरी में पीसीबी और अकमल द्वारा दायर मामलों में सुनवाई करते हुए इस बल्लेबाज पर यह जुर्माना लगाया था।

सूत्रों ने कहा, 'उमर ने 45 लाख रुपये की पूरी राशि बोर्ड के पास जमा कर दी है जिसका मतलब है कि वह अब बोर्ड की भ्रष्टाचार निरोधक इकाई के कार्यक्रम में हिस्सा ले सकता है। उसे अपना क्रिकेट करियर फिर से शुरू करने के लिये हालांकि अभी थोड़ा इंतजार करना होगा। ' इससे पहले बोर्ड ने अकमल का 45 लाख रुपये की धन​राशि किश्तों में जमा करने का अनुरोध नामंजूर कर दिया था। अकमल पर भ्रष्टाचार निरोध​क संहिता का उल्लंघन करने के कारण 2020 में प्रतिबंध लगाया गया था।

क्या था मामला?
पाकिस्तानी बल्लेबाज उमर अकमल
पर सटोरियों द्वारा संपर्क किए जाने की सूचना नहीं देने के कारण पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने को तीन साल का प्रतिबंध लगा दिया था। अकमल पर आरोप था कि पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) के दौरान उनसे स्पॉट फिक्सिंग के लिए संपर्क किया गया था। जिसकी जानकरी उन्होंने बोर्ड को नहीं दी थी।

हालांकि बाद में उमर का 3 साल का प्रतिबंध घटाकर 18 महीने का कर दिया गया था जो साल 2020 के शुरू में भ्रष्ट पेशकश की रिपोर्ट नहीं करने के लिए लगाया गया था। अकमल का प्रतिबंध अब अगस्त 2021 तक ही प्रभावी होगा। हालांकि उनके पाकिस्तान क्रिकेट टीम में वापसी की संभावना नगण्य है, लेकिन पाकिस्तान सुपर लीग में वह खेल सकते हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :