नहीं लिया ह्यूज की मौत से सबक, जारी है बाउंसर

एडिलेड| पुनः संशोधित शनिवार, 6 दिसंबर 2014 (10:51 IST)
हमें फॉलो करें
एडिलेड। खेलने के लिए मशहूर ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों ने फिलीप ह्यूज की मौत के बाद पहले अभ्यास सत्र में फेंकने से गुरेज नहीं किया।
ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों ने शुक्रवार को अभ्यास शुरू किया और जमकर बाउंसर फेंके। अधिकांश खिलाड़ी मंगलवार के बाद पहली बार मैदान पर लौटे हैं। उसी दिन एक घरेलू मैच के दौरान ह्यूज को बाउंसर लगा था जिसके कारण बाद में उनकी मौत हो गई।> > मैक्सविले में बुधवार को उनको अंतिम विदाई देने के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत के खिलाफ 9 दिसंबर को शुरू हो रहे पहले टेस्ट के लिए अभ्यास शुरू कर दिया।
क्रिकेट डॉटकॉम डॉट एयू की रिपोर्ट के अनुसार कुछ हल्के अभ्यास के बाद मिशेल जॉनसन, पीटर सिडल और जोश हेजलवुड ने गेंदबाजी की। हेजलवुड ने काफी आक्रामक गेंदें डालीं जिससे शेन वॉटसन और क्रिस रोजर्स को उन्हें संभलकर खेलना पड़ा।

मिशेल मार्श तो अपने भाई शान को भी शॉर्ट गेंद डालने से बाज नहीं आए। दोनों अगर पहला टेस्ट खेलते हैं तो 2002 में मार्क और स्टीव वा के बाद एकसाथ ऑस्ट्रेलिया के लिए टेस्ट खेलने वाले पहले भाई होंगे।

बाउंसरों की बौछार को देखते हुए स्पष्ट है कि ह्यूज की त्रासद मौत के बावजूद ऑस्ट्रेलिया की ट्रेडमार्क आक्रामकता में कोई कमी नहीं आएगी। कोच डेरेन लीमैन ने सत्र से पहले कहा था कि हम हमेंशा ऐसे ही खेलते आए हैं। मुझे नहीं लगता कि इसमें कोई बदलाव आएगा।

रियान हैरिस ने बाकी 3 तेज गेंदबाजों के साथ अभ्यास नहीं किया। उन्होंने बाद में गेंदबाजी की। खिलाड़ी अभ्यास में रमते नजर आ रहे थे लेकिन लीमैन ने इस सवाल का काफी सावधानी से जवाब दिया कि क्या ह्यूज को अंतिम विदाई देने के बाद वे टेस्ट मैच के लिए तैयार हैं।

लीमैन ने कहा कि इस तरह के हालात को देखते हुए यह कहना कठिन है कि टीम का प्रदर्शन कैसा होगा। उन्होंने कहा कि जब तक मैच शुरू नहीं होता, हम कुछ नहीं कह सकते। ऐसे हालात का सामना पहले कभी नहीं किया है। यह बड़ा चुनौतीपूर्ण होगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :