1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Misbah-ul-Haq
Written By
पुनः संशोधित सोमवार, 13 अक्टूबर 2014 (17:09 IST)

मिस्बाह के समर्थन में उतरा पीसीबी

कराची। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 और फिर वनडे सीरीज में एकतरफा हार के बाद आलोचनाओं में घिरी पाकिस्तानी टीम के कप्तान मिस्बाह उल हक के समर्थन में उतर आया है।
 
अगले वर्ष होने वाले विश्व कप तक राष्ट्रीय टीम के कप्तान बने 40 वर्षीय मध्यक्रम के बल्लेबाज मिस्बाह न तो पिछले काफी समय से खुद अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और न ही उनके नेतृत्व में टीम बेहतर खेल पा रही है। ऐसे में मिस्बाह को कप्तानी से हटाए जाने को लेकर एक बार फिर से आवाज बुलंद होने लगी है।
 
रविवार रात खेले गए आखिरी मैच में पाकिस्तान को 1 रन से हार झेलनी पड़ी थी। इस मैच में मिस्बाह टीम का हिस्सा नहीं थे और ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी ने कप्तानी संभाली थी। वनडे सीरीज में पाकिस्तान को 0-3 से मिली एकतरफा हार के बाद पीसीबी अध्यक्ष शहरयार खान ने मिस्बाह के न खेलने के फैसले का बचाव करते हुए कहा ‍कि मिस्बाह कुछ परेशान थे और खेल से ब्रेक लेना चाहते थे।
 
शहरयार ने कहा कि मिस्बाह को टीम को मिली हार से बेहद निराशा है। उन्होंने तीसरे मैच में नहीं खेलने का फैसला लिया, क्योंकि वे कुछ आराम करना चाहते थे। मैनेजमेंट ने भी उनके निर्णय का फैसला किया कि उनके फैसले का सम्मान किया जाए।
 
उन्होंने कहा कि किसी ने भी मिस्बाह को जबरन बाहर जाने के लिए नहीं कहा है। वे खुद ही सीरीज से कुछ समय के लिए आराम करना चाहते थे। उन्हें लगा कि यह ब्रेक लेने का सही समय है ताकि वे टेस्ट के लिए कुछ रिकवर कर सकें।
 
इस बीच शहरयार ने यह भी संकेत दिए कि मिस्बाह खुद भी कप्तानी से हट सकते हैं। उन्होंने कहा कि मिस्बाह ने मुझसे कहा है कि यदि उनकी वजह से टीम को परेशानी होगी तो वे खुद ही कप्तानी छोड़ देंगे जबकि मैंने उन्हें भरोसा दिया है कि वे विश्व कप तक टीम के कप्तान रहेंगे।
 
ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच 2 टेस्टों की सीरीज होनी है। पहला मैच 22 अक्टूबर से दुबई में शुरू होगा। (भाषा)