जॉनसन का सम्मान करने का सवाल ही नहीं : विराट

पुनः संशोधित रविवार, 28 दिसंबर 2014 (18:43 IST)
मेलबोर्न। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच यहां चल रहे तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन के हीरो रहे शतकवीर विराट कोहली और कंगारू तेज गेंदबाज के बीच दिनभर छींटाकशी और मौखिक विवाद चलता रहा।
विराट ने दिन के खेल के बाद बातचीत में भी अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि उनके मन में मिशेल जॉनसन सहित कुछ ऑस्ट्रेलियाई खिलाडियों के लिए कोई सम्मान नहीं रह गया है।
 
विराट की 169 रनों की शानदार पारी के दौरान कई ऐसे मौके आए, जब उनकी जॉनसन के साथ गर्मागर्म बहस हो गई। मैच के दौरान जॉनसन ने विरोट पर कुछ टिप्पणी कर दी जिसके बाद उन्होंने एक ओवर में एक के बाद एक 3 चौके जड़े उन्हें मुंहतोड़ जबाव दिया।
 
इस दौरान बात तब बढ़ गई, जब जॉनसन ने अपनी ही गेंद पर रनआउट करने के लिए गेंद फेंकी, जो स्टंप्स के बाजय विराट की पीठ पर लग गई। इसमें दोनों खिलाड़ियों में बीच-बचाव के लिए अंपायरों को हस्तक्षेप करना पड़ा।
 
विराट ने कहा कि मैंने उन्हें चेतावनी देते हुए कहा कि मैं यहां सिर्फ क्रिकेट खेलने के मकसद से आया हूं न कि किसी से भी फालतू विवाद करने। जब कोई मेरा सम्मान नहीं करता है तो कोई वजह नहीं कि मैं उनका सम्मान करूं।
 
उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम का यह रवैया ही मुझे अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित करता है और शायद यही वजह है कि मेरे 9 में से 5 शतक इसी टीम के खिलाफ लगे हैं। क्रीज पर रहने के दौरान ऑस्ट्रेलिया के कुछ खिलाड़ी लगातार टिप्पणी करते रहते हैं और यही बात मेरे पक्ष में जाती है।
 
विराट ने कहा कि जब यही टीम भारत में खेलती है तो इतनी टिप्पणी नहीं होती है, वहीं दूसरी तरफ सीरीज में 0-2 से पिछड़ने के बाद भी हम शांतिपूर्वक डटकर उनका मुकाबला कर रहे हैं। यही भारतीय टीम की खासियत है।
 
हालांकि जॉनसन की 72 गेंदों में 68 रन बनाने वाले विराट दिन के आखिरी ओवर में बाहर जाती गेंद पर गलत शॉट लगाकर जॉनसन का शिकार बने। आउट होने से पहले अपनी 169 रनों की पारी में उन्होंने 18 चौके जमाए। (वार्ता) 


और भी पढ़ें :