लॉर्ड्स पर गांगुली का रिकॉर्ड तोड़ने से सिर्फ 5 रन दूर हैं केएल राहुल, दोहरे शतक पर तोड़ देंगे इन सभी के रिकॉर्ड

पुनः संशोधित शुक्रवार, 13 अगस्त 2021 (14:20 IST)
बनाम टेस्ट सीरीज शुरु होने से पहले से किसी को खास उम्मीद नहीं थी। वह मयंक अग्रवाल और शुभमन गिल की गैरमौजूदगी में एक सलामी बल्लेबाज के तौर पर टीम से जुड़े और अब तक वह पूरी सीरीज के टॉप स्कोरर हैं।


नॉटिंघम में 84 की पारी के बाद अब उन्होंने पर जमा हॉनरी बोर्ड पर अपना नाम दर्ज करवा लिया है। लेकिन 12 चौकों और 1 छक्के लगाकर 127 रनों पर खेल रहे केएल राहुल आज 5 रन और जोड़ लेते हैं तो वह पूर्व भारतीय कप्तान और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली के लॉर्ड्स में बनाए 131 रनों से आगे निकल जाएंगे। गौरतलब है कि सौरव गांगुली ने अपने पहले ही टेस्ट में लॉर्ड्स पर शतक जमाया था।

दोहरा शतक बना कर सबको पीछे छोड़ने का मौका
लॉर्ड्स पर सर्वाधिक स्कोर की बात करें तो वीनू मांकड़ ने 1952 में लॉर्ड्स के मैदान पर 184 की पारी खेली थी। इसके बाद दिलीप वेंगसरकर ने भी लॉर्ड्स के मैदान पर 157 रन बनाए थे। अगर केएल राहुल ने दोहरा शतक जमा दिया तो वह इतिहास रच देंगे क्योंकि वह लॉर्ड्स पर दोहरा शतक जमाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज होंगे।

7 दिग्गजों को कर चुके हैं पीछे
केएल राहुल लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर शतक जमाने वाले दसवें भारतीय बल्लेबाज हैं। इससे पहले सौरव गांगुली, गुंडप्पा विश्वनाथ, वीनू माकंड़, दिलीप वेंगसकर, मोहम्मद अजहरुद्दीन, राहुल द्रविड़, रवि शास्त्री अजिंक्य रहाणे और अजित आगरकर भी क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स पर शतक जमा चुके हैं। स्कोर की बात करें तो केएल राहुल का शतक 7 खिलाड़ियों से बड़ा है अब बस उन्हें तीन नामों से आगे निकलना है जिसकी कोशिश वह शुक्रवार को करेंगे।
लॉर्ड्स पर शतक जमाने वाले तीसरे भारतीय ओपनर


साल 2018 में केएल राहुल ने ओवल के मैदान पर 149 रनों की पारी खेली थी। इंग्लैंड के खिलाफ यह उनका तीसरा और कुल छठवां शतक है। केएल राहुल 31 साल बाद ऐसे भारतीय सलामी बल्लेबाज बने हैं जिन्होंने लॉर्ड्स पर शतक जड़ा है। इससे पहले उनके मुख्य कोच रवि शास्त्री ने साल 1990 में टेस्ट शतक लगाया थाऔर वीनू मांकड़ ने साल 1952 में यहां पर शतक लगाया था।

एशिया के बाहर राहुल के 4 टेस्ट शतक

एशिया के बाहर टेस्ट शतक जमाना एक चुनौती होती है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शतक जमा कर करियर का आगाज कर चुके केएल राहुल एशिया के बाहर अब तक 4 टेस्ट शतक लगा चुके हैं। इस फहरिस्त में वह वीरेंद्र सहवाग के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर खड़े है। एशिया के बाहर सर्वाधिक टेस्ट शतक (15) सुनील गावस्कर ने लगाए हैं।
रोहित और राहुल की 100 रनों की सलामी साझेदारी

रोहित शर्मा 83 रनों की पारी को शतक में तब्दील कर लॉर्ड्स के हॉनरी बोर्ड पर अपना नाम तो नहीं पढ़ पाए लेकिन केएल राहुल के साथ 126 रनों की साझेदारी लॉर्ड्से के मैदान पर तीसरी और इंग्लैंड की धरती पर भारतीय सलामी बल्लेबाजों द्वारा पांचवी सबसे बड़ी साझेदारी बनी।

इससे पहले फारुख इंजीनियर और सुनील गावस्कर ने सलामी बल्लेबाज के तौर पर लॉर्ड्स में 131 रन और वीनू मांकड़- पंकज रॉय ने106 रनों की साझेदारी निभाई थी। (वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :