न्यूजीलैंड और भारत को क्लीनस्वीप करने की डींगें हांक रहे थे जो रूट, टेस्ट के पहले दिन ही निकली हवा

Last Updated: गुरुवार, 3 जून 2021 (12:00 IST)
लंदन: के कप्तान ने कहा कि टेस्ट क्रिकेट की दो शीर्ष टीमों और के खिलाफ क्लीन स्वीप करना इस साल के आखिर में चिर प्रतिद्वंद्वी आस्ट्रेलिया के खिलाफ ए​शेज श्रृंखला के लिये सर्वश्रेष्ठ तैयारी होगी।

इन सर्दियों में आस्ट्रेलिया के लिये रवाना होने से पहले इंग्लैंड को न्यूजीलैंड और भारत के खिलाफ सात टेस्ट मैच खेलने हैं।उन्हें पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैच खेलने हैं और फिर अगस्त—सितंबर में पांच टेस्ट मैचों में भारत का सामना करना है।

रूट ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले मैच से पूर्व कहा, 'आस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली श्रृंखला को लेकर इन गर्मियों में लगातार चर्चा होती रहेगी। आप इससे मुंह नहीं मोड़ सकते। ' उन्होंने कहा, 'हम लंबे समय से कह रहे हैं कि हम उस श्रृंखला की तैयारी कर रहे हैं और इंग्लैंड के किसी प्रशंसक, इंग्लैंड के खिलाड़ी के लिये यह प्रतिष्ठित श्रृंखला है।'

रूट ने कहा, 'यह निश्चित तौर पर हमारे लिये बहुत महत्वपूर्ण है लेकिन हमारे लिये इसकी सर्वश्रेष्ठ तैयारी इन सात टेस्ट मैचों में अच्छा प्रदर्शन करना और विश्व की दो सर्वश्रेष्ठ टीमों के खिलाफ जीत दर्ज करना होगा।' भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की श्रृंखला खेलने से पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ 18 से 22 जून तक साउथम्पटन में विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलेगी।

हालांकि न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के पहले दिन इंग्लैंड के गेंदबाजों का पहले दिन का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा। अपनी पिच पर घातक गेंदबाजी के लिए मशहूर इंग्लैंड पहले दिन टॉस हारकर सिर्फ 3 ही विकेट ले पाया।

इसमें से एक विकेट जेम्स एंडरसन को मिला जिन्होंने न्यूजीलैंड के कप्तान और टेस्ट क्रिकेट के नंबर 1 बल्लेबाज केन विलियमसन को प्लेड ऑन किया। तो दो विकेट टेस्ट पदार्पण कर रहे ओली रोबिन्सन ने लिए। उन्होंने टॉम लेथम और फिर रॉस टेलर जैसे अनुभवी बल्लेबाजों को पवैलियन का रास्ता दिखाया।

इसके बाद पहला टेस्ट खेल रहे डेवॉन कॉन्वे और हेनरी निकल्स ने नाबाद 132 नों की साझेदारी कर इंग्लैड को पहले दिन ही बैकफुट पर धकेल दिया। देखना होगा कि जितने दावे इंग्लैंड के कप्तान जो रूट कर रहे हैं उनके खिलाड़ी वैसा प्रदर्शन कर भी पाते हैं या नहीं।



और भी पढ़ें :