उद्योग जगत ने धोनी को सराहा, अडानी बोले- उन्‍होंने लाखों लोगों को प्रेरित किया...

Last Updated: रविवार, 16 अगस्त 2020 (20:25 IST)
नई दिल्ली। अरबपति कारोबारी गौतम अडानी ने के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के प्रति सम्मान प्रकट करने में जगत की अगुवाई की। उन्होंने कहा कि धोनी ने छोटे शहरों व आम परिवारों के लाखों लोगों को प्रेरित किया है। धोनी, भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे सफल कप्तान रहे हैं। उन्होंने भारत को 2007 में टी-20 विश्व कप और 2011 में एकदिवसीय विश्व कप में जीत दिलाई है।
धोनी ने शनिवार को इंस्टाग्राम पर डाले गए एक वीडियो संदेश के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की। अडानी ने ट्वीट किया, एमएस धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया, लेकिन पिछले डेढ़ दशक में उन्होंने जो कुछ हासिल किया, वह कभी भी स्कोर बोर्ड पर नहीं दिख सकता। उन्होंने छोटे शहरों और आम परिवारों के लाखों लोगों को सपना पूरा करने के लिए प्रेरित किया।

वेदांता लिमिटेड के वाइस चेयरमैन नवीन अग्रवाल ने क्रिकेट दिग्गज के साथ अपनी मुलाकात को याद किया। उन्होंने कहा, विकेट की ओर आपकी दौड़ बेहद पसंदीदा रहेगी, खासकर बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 में किया गया एक रन आउट। किंवदंती से मिलने और खेल के प्रति आपके जुनून का अनुभव करने का सौभाग्य मिला। एक अंतिम बार धोनी...धोनी।

ई-वाणिज्य कंपनी स्नैपडील के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) कुणाल बहल ने कहा कि धोनी ने सभी को प्रेरणा दी है। उन्होंने ट्वीट किया, धोनी को मैदान पर और मैदान से बाहर देखकर हर किसी को शांत, विनम्र, हमेशा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की आकांक्षा रखने की प्रेरणा मिलती है।

हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) ने भी ट्वीट कर धोनी के प्रति सम्मान व्यक्त किया। उन्होंने कहा, धोनी ने इसे भी अपनी शैली में ही खत्म किया। वह जर्सी नं 7 के सबसे प्रतिष्ठित मालिक और भारतीय क्रिकेटर रहे। अब विकेट के पीछे का नजारा कभी भी पहले जैसा नहीं होने वाला है। दुनिया जान हलक में ला देने वाली फिनिशिंग अब नहीं देख पाएगी। #धोनी का संन्यास। अडानी स्पोर्ट्सलाइन ने कहा, धोनी ने स्टाइल में समाप्त किया। सभी खूबसूरत यादों के लिए धन्यवाद एमएस धोनी।

जेएसडब्ल्यू समूह के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक सज्जन जिंदल ने ट्वीट किया, एमएस धोनी को शुभकामनाएं, क्योंकि वह सभी प्रकार के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले रहे हैं। दबाव में प्रदर्शन करने की उनकी क्षमता और टीम को खुद से ऊपर रखने की काबिलियत ने उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठा दी। भारत उन्हें क्रिकेट के मैदान में याद करेगा।
टेक महिंद्रा के सीईओ एवं प्रबंध निदेशक सीपी गुरनानी ने कहा कि अगुवाई करने वाले कभी सेवानिवृत्त नहीं होते बल्कि एक अलग मंच चुनते हैं। उन्होंने ट्वीट किया, खिलाड़ी धोनी का कट्टर प्रशंसक, अगुवाई करने वाले धोनी का बड़ा प्रशंसक। एक छोटे शहर का लड़का, उन्होंने साबित कर दिया कि नेतृत्व का काम आत्मविश्वास, टीम में विश्वास और परिणाम देना है।(भाषा)



और भी पढ़ें :