IPL 2021 की नीलामी में खरीदे गए इन 5 विदेशी खिलाड़ियों पर रहेगी सबकी नजर

Last Updated: सोमवार, 5 अप्रैल 2021 (17:05 IST)
आईपीएल में कुछ खिलाड़ी विदेशी तड़का लगाने के लिए जाने जाते हैं। भारतीय क्रिकेट प्रेमी कोहली और धोनी के साथ कुछ विदेशी खिलाड़ियों के खेल को देखना भी पसंद करते हैं। इनमें से सबसे ऊपर नाम है एबी डीविलियर्स का जिनकी फैन फॉलोइंग भारत में काफी ज्यादा है।
एबी डीविलियर्स तो भारतीय फैंस में ऑल टाइम हिट हैं ही लेकिन इस बार कुछ और विदेशी खिलाड़ियों को खेलता देखने के लिए भारतीय दर्शक उत्सुक होंगे। यह रहे उन 5 खिलाड़ियों के नाम
1) क्रिस मॉरिस-
आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे खिलाड़ी को 16.25 करोड़ की राशि में राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा।

उन्होंने 70 आईपीएल मैचों में 157.88 के स्ट्राइक रेट से 551 रन बनाए हैं और 7.81 के इकोनॉमी रेट से 80 विकेट भी लिए हैं। वह पिछले सत्र में बेंगलुरु टीम का हिस्सा थे, लेकिन पेट की चोट के कारण नौ मैच ही खेल पाए थे, जिनमें उन्होंने 11 विकेट लिए थे। मोरिस की पिछले साल की कीमत 6.25 करोड़ रुपए थी, जिसमें इस बार 10 करोड़ रुपए का इजाफा हुआ है।

मॉरिस अच्छे ऑलराउंडर है लेकिन इतने भी नहीं कि इतना बड़ा दाम उन पर लगाया जाए। इस कारण उनके प्रदर्शन पर राजस्थान के अलावा बाकी टीमों के समर्थकों की भी नजर रहेगी
Glenn Maxwell
2) ग्लेन मैक्सवेल-
जो खिलाड़ी एक आईपीएल सीजन में एक भी छक्का ना लगा पाया हो वह अगर 14.25 करोड़ में खरीदा जाए तो सबकी निगाहें उस खिलाड़ी के प्रदर्शन पर होगी।

पंजाब टीम ने इस सत्र में मैक्सवेल को रिलीज कर दिया था और वह दो करोड़ रुपए के आधार मूल्य के साथ नीलामी में उतरे थे। मैक्सवेल का पिछला सत्र निराशाजनक रहा था और वह 13 मैचों में कुल 108 रन बना पाए थे और विकेट भी सिर्फ 1 निकाल पाए थे।
बावजूद इसके मैक्सवेल को लेने के लिए फ्रैंचाइजी भिड़ पड़ी। बेंगलुरु ने मैक्सवेल को खरीदने के लिए चेन्नई सुपर किंग्स से कड़ा मुकाबला किया और 14.25 करोड़ रुपए में उन्हें हासिल कर लिया। मैक्सवेल की यह कीमत उनके पिछले सत्र से लगभग चार करोड़ रुपए ज्यादा है। मैक्सवेल पिछले सत्र में पंजाब किंग्स से खेले थे और उस समय उन्हें 10.75 करोड़ रुपए मिले थे।
3- शाकिब अल हसन
आईपीएल 2021 की नीलामी में कोलकाता नाइट राइडर्स ने उन्हें 3.2 करोड़ रुपये में खरीदा था। शाकिब इससे पहले 2011 और 2017 के बीच नाइट राइडर्स के लिए खेल चुके हैं और उन्होंने 2012 और 2014 में कोलकाता के आईपीएल चैम्पियन बनने में महत्वपूर्ण योगदान दिया था।

को आईसीसी द्वारा उन्हें 2019 के अंत तक एक भ्रष्टाचार की पेशकश होने की जानकारी देने में विफल रहने के लिए प्रतिबंधित किया गया था। इसके बाद वह क्रिकेट से करीब एक साल दूर रहे। एक साल के प्रतिबंध के बाद भी वनडे क्रिकेट में वह ऑलराउंडरों की रैंकिंग में नंबर 1 और टी-20 में नंबर 2 पर काबिज हैं। प्रतिबंध के बाद खेले गए अपने पहले मैच में ही उन्होंने मैन ऑफ द मैच का पुरुस्कार जीता था। इस कारण बहुत से फैंस की नजरे उन पर गड़ी हुई होगी।
4) जेसन रॉय
जैसा बल्लेबाज आईपीएल 2021 की नीलामी में नहीं बिका था जो कि आश्चर्य का विषय था। हालांकि अंत समय पर इंग्लैंड के इस बल्लेबाज को आईपीएल में खेलने का टिकट मिला।

सनराइजर्स हैदराबाद ने ऑस्ट्रेलियाई आलराउंडर मिचेल मार्श की जगह इंग्लैंड के स्टार ओपनर जैसन रॉय को टीम में शामिल किया। नीलामी में नहीं बिकने के कारण वह निराश थे यह माना जा रहा था कि उन पर धनवर्षा होगी लेकिन अंत में उन्हें कम से म 2 करोड़ के बेस प्राइस पर सनराइजर्स ने अपनी टीम में ले लिया।

जैसन रॉय ने भारत के खिलाफ पांच टी-20 मुकाबलों में 132.11 के स्ट्राइक रेट के साथ 144 और तीन मैचों की वनडे सीरीज में 123.65 के स्ट्राइक रेट के साथ 115 रन बनाए थे। इस कारण यह देखना दिलचस्प रहेगा कि क्या वह यह फॉर्म आईपीएल में भी जारी रख पाएंगे।
5) मोइन अली
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से रीलीज किए गए मोइन अली को चेन्नई सुपर किंग्स ने 7 करोड़ में खरीद लिया था । 2 करोड़ के बेस प्राइस पर मोइन अली ने इस नीलामी में अपना दावा ठोंका था लेकिन उनको अंत में 7 करोड़ मिल गए।
जिस फ्रैंचाइजी से मोइन अली आए हैं और जिसमें गए हैं इन दोनों ही फ्रैंचाइजियों की आईपीएल में जबरदस्त फैन फॉलोइंग है। मोइन अली विराट कोहली के खेल की बारिकियां जानते हैं और कई बार उनको आउट कर चुके हैं। हो सकता है माही इसका फायदा उठाएं। इस कारण मोइन अली पर भी भारतीय फैंस की नजरें गड़ी रहेंगी।



और भी पढ़ें :