ये स्टेडियम बनेंगे क्रिकेट विश्वकप 2015 के गवाह...

Last Updated: शुक्रवार, 16 जनवरी 2015 (17:23 IST)
आईसीसी को शुरू होने में चंद दिन शेष रह गए हैं। इस बार क्रिकेट विश्वकप ऑस्ट्रेलिया व न्यूजीलैंड में आयोजित किया जा रहा है। ऑस्ट्रेलिया व न्यूजीलैंड के मैदान अपनी खूबसूरती के लिए विश्वभर में प्रसिद्ध हैं तो आइए जानते हैं 15 फरवरी से शुरू हो रहे विश्वकप के दौरान कौन-कौन से क्रिकेट ग्राउंड इस क्रिकेट महाकुंभ का गवाह बनेंगे।      
एडीलेड ओवल ग्राउंड- 
 
एडीलेड ओवल दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया में स्थित ऑस्ट्रेलिया के पुराने मैदानों में से एक है। 1873 में बनाए गए इस मैदान में पहली बार क्रिकेट मैच सन् 1884-85 में इंग्लैंड व ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया। यह मैदान हरी भरी पिच की खूबसूरती को लेकर देशी-विदेशी खिलाड़ियों के बीच खूब प्रसिद्ध है।
 
इस मैदान में पहला एकदिवसीय मैच 1975 में ऑस्ट्रेलिया व वेस्टइंडीज के मध्य खेला गया था। मैदान की दर्शक क्षमता लगभग 31000 है। इसी मैदान पर विश्वकप 2015 का मैच भारत व पाकिस्तान के मध्य खेला जाएगा। 
 
ब्रिसबेन क्रिकेट ग्राउंड- 
 
ब्रिसब्रेन क्रिकेट ग्राउंड को गाबा के उप-नाम से भी जाना जाता है। इस मैदान को सन् 1895 में तैयार किया गया था।मैदान में पहला क्रिकेट अंतरराष्ट्रीय मैच सन् 1931 में ऑस्ट्रेलिया व साउथ अफ्रीका के मध्य खेला गया। मैदान पर पहला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच ऑस्ट्रेलिया व वेस्टइंडीज के बीच 1979 में खेला गया। 
 
साठ के दशक में इस मैदान पर ऑस्ट्रेलिया व वेस्टइंडीज के बीच खेले गए मैच का एक दिलचस्प रन आउट आज भी याद किया जाता है। साथ ही महान स्पिनर शेन वार्न का भी यह पसंदीदा ग्राउंड रहा है।
 
पिच की उछाल का फायदा उठाते हुए शेन वार्न अच्छे-अच्छे सूरमा बल्लेबाजों को इस मैदान पर नक के बल चने चबाने पर मजबूर कर चुके हैं। इस ग्राउंड की दर्शक क्षमता 40000 हजार है। 
 
इस मैदान पर आईसीसी विश्व कप के 21 फरवरी को होने वाले ऑस्ट्रेलिया बनाम बांग्लादेश, 25 फरवरी को आयरलैंड बनाम यूएई, 1 मार्च को पाकिस्तान बनाम जिम्बाम्बे मैच खेले जाएंगे।
 
अगले पेज और जानिए और जो बनेंगे गवाह...
 



और भी पढ़ें :