जहीर खान बोले, बुमराह को आक्रामक होने और अतिरिक्त जोखिम उठाने की जरूरत

Last Updated: शुक्रवार, 14 फ़रवरी 2020 (09:03 IST)
नई दिल्ली। के को लगता है कि को न्यूजीलैंड के खिलाफ आगामी टेस्ट श्रृंखला में अपनी मौजूदगी दर्ज कराने के लिए अधिक होने के अलावा अतिरिक्त जोखिम उठाने की जरूरत है।
ALSO READ:
ODI Series : जसप्रीत बुमराह का बुरा वक्त, पिछले 6 में से 5 मैच में 1 भी विकेट नहीं
हाल में वनडे श्रृंखला में उन्हें कोई विकेट नहीं मिला था। पिछले साल के कारण 4 महीने क्रिकेट से दूर रहने वाले बुमराह ने न्यूजीलैंड के खिलाफ सभी 3 वनडे खेले। उन्होंने 30 ओवरों में 167 रन दिए लेकिन वे कोई विकेट हासिल नहीं कर सके।
जहीर ने कहा कि प्रतिद्वंद्वी बल्लेबाजों को अब बुमराह के खिलाफ खेलने में ज्यादा सतर्क होना होगा जबकि इस तेज गेंदबाज को फॉर्म में वापसी के लिए अतिरिक्त प्रयास करने होंगे। जहीर ने 'क्रिकबज डॉट कॉम' से कहा कि जब आप ऐसी ख्याति हासिल कर लेते हो, जैसे कि जसप्रीत बुमराह ने इतने वर्षों में हासिल की है तो आपको इससे जूझना होता है।

उन्होंने कहा कि बुमराह को इसे समझना होगा कि उसे ये विकेट हासिल करने के लिए थोड़ा अतिरिक्त आक्रामक होना होगा। बुमराह को अतिरिक्त जोखिम लेने की जरूरत है।
भारत टी-20 में न्यूजीलैंड के खिलाफ 5-0 से जीत हासिल करने के बाद वनडे श्रृंखला में मेजबानों से 0-3 से हार गया जिसमें बुमराह का फ्लॉप शो अहम रहा। जहीर ने कहा कि बल्लेबाजों को बुमराह का सामना करने में थोड़ी सतर्कता बरतनी होगी।

उन्होंने कहा कि वह जानता है कि बल्लेबाज थोड़े रक्षात्मक होंगे इसलिए उसे बल्लेबाजों के गलती करने की उम्मीद करने के बजाय विकेट झटकने का तरीका ढूंढना होगा। बल्लेबाज काफी सतर्क रवैया अपना रहे हैं और वे सुनिश्चित करेंगे कि बुमराह विकेट हासिल नहीं कर सकें।
जहीर ने कहा कि यह अच्छा संकेत है कि अन्य बल्लेबाज उन्हें इतना सम्मान दे रहे हैं इसलिए अब बुमराह की जिम्मेदारी उन्हें खेलने के लिए उकसाने की है। उसे खुद को बताना होगा कि 'मेरा काम रन रोकना नहीं है, मेरा काम विकेट झटकना है और इस प्रक्रिया में अगर मेरी गेंदों पर रन भी बनते हैं तो बनने दो। मैं मुख्य गेंदबाज हूं इसलिए मुझे दबदबा बनाना होगा।'

भारत और न्यूजीलैंड के बीच 2 मैचों की टेस्ट श्रृंखला 21 फरवरी से वेलिंगटन में शुरू होगी।




और भी पढ़ें :