गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. BCCI splurged three and a half crore for a charted flight for the caribbean landing
Written By
Last Updated: शुक्रवार, 22 जुलाई 2022 (13:55 IST)

BCCI ने भारतीय टीम के कैरेबियन हवाई सफ़र में ख़र्च किए 3.5 करोड़ रुपये!

मुंबई/पोर्ट ऑफ स्पेन: इंग्लैंड में एक सफ़ल सीमित ओवर दौरे के बाद भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम कैरेबियन रवाना हुई है जिसके लिये बीसीसीआई ने 3.5 करोड़ रुपये ख़र्च किये हैं। बीसीसीआई के एक क़रीबी सूत्र ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

इंग्लैंड के खिलाफ अंतिम एकदिवसीय मैच 17 जुलाई को समाप्त हुआ।आगामी एकदिवसीय श्रंखला के दौरान आराम करने वाले खिलाड़ी अपने-अपने रास्ते चले गये, लेकिन जिन खिलाड़ियों को वेस्ट इंडीज की यात्रा करनी थी वे एक चार्टर्ड उड़ान के ज़रिये वेस्ट इंडीज़ के लिये रवाना हुए। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, बीसीसीआई ने भारतीय टीम की मैनचेस्टर से पोर्ट ऑफ स्पेन की उड़ान पर 3.5 करोड़ रुपये ख़र्च किये हैं।

टीम 22 जुलाई से कैरेबियन में तीन एकदिवसीय मैच खेलेगी, जिसके बाद 29 जुलाई से पांच टी20 मैच खेले जाएंगे। नियमित कप्तान रोहित शर्मा, ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या टी20 श्रंखला के लिए टीम में वापसी करेंगे, जबकि विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह और युज़वेंद्र चहल को पूरे दौरे के लिये आराम दिया गया है।

फ्लाइट में नहीं मिल रहा था टिकट

बीसीसीआई के एक करीबी सूत्र ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, “बीसीसीआई ने चार्टर्ड फ्लाइट पर 3.5 करोड़ रुपये खर्च किए, जो भारतीय टीम को मंगलवार दोपहर मैनचेस्टर से पोर्ट ऑफ स्पेन (त्रिनिदाद और टोबैगो की राजधानी) ले गई। टीम के लिए चार्टर्ड फ्लाइट बुक करने का कारण कोविड नहीं था। एक वाणिज्यिक उड़ान पर इतने सारे टिकट बुक करना मुश्किल है और भारतीय दल में मुख्य कोच राहुल द्रविड़ सहित 16 खिलाड़ी और सहयोगी स्टाफ के सदस्य शामिल हैं। कुछ खिलाड़ियों की पत्नियों ने भी कैरेबियन की यात्रा की है।”

सूत्र ने कहा कि यह एक वाणिज्यिक विमान के बजाय एक चार्टर्ड उड़ान बुक करना तर्कसंगत था क्योंकि दुनिया के शीर्ष फुटबॉल क्लबों में भी यह चलन आम है। सूत्र ने कहा, “आम तौर पर एक व्यावसायिक उड़ान में लगभग दो करोड़ रुपये खर्च होते। मैनचेस्टर से पोर्ट ऑफ स्पेन के लिए एक बिजनेस क्लास का टिकट लगभग दो लाख रुपये होगा। एक चार्टर्ड उड़ान अधिक महंगी है, लेकिन यह एक तार्किक विकल्प है। अधिकांश शीर्ष फुटबॉल टीमों के पास अब एक चार्टर प्लेन है।”(वार्ता)
ये भी पढ़ें
रविंद्र जड़ेजा के घुटने में फिर समस्या, वनडे सीरीज से हो सकते हैं बाहर