स्पिनरों के सामने वापसी करने उतरेगा ऑस्ट्रेलिया

अबुधाबी| पुनः संशोधित बुधवार, 29 अक्टूबर 2014 (22:08 IST)
हमें फॉलो करें
अबुधाबी। एशियाई सरजमीं पर एक और स्पिन परीक्षा में नाकाम रहने के बाद ऑस्ट्रेलिया गुरुवार से पाकिस्तान के खिलाफ यहां शुरू होने वाले दूसरे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच में वापसी करने के उद्देश्य से मैदान पर उतरेगा। 
विश्व की नंबर दो टीम दुबई में पहले टेस्ट मैच में पाकिस्तान के अनुभवहीन लेकिन प्रभावशाली स्पिन आक्रमण के सामने नतमस्तक हो गई और उसे 221 रन की करारी हार झेलनी पड़ी। एशिया में यह लगातार पांचवां मैच था जिसमें उसके बल्लेबाजों ने स्पिनरों के सामने घुटने टेके। पिछले साल भारत ने उसे 4-0 से हराया था। 
 
अपना केवल तीसरा टेस्ट मैच खेल रहे बाएं हाथ के स्पिनर जुल्फिकार बाबर ने मैच में सात विकेट लिए जबकि अपना पहला टेस्ट खेल रहे लेग स्पिनर यासिर शाह ने भी शानदार गेंदबाजी की। पाकिस्तान के बल्लेबाजों ने भी गजब का प्रदर्शन किया। 
 
यूनिस खान ने दोनों पारियों में शतक लगाए जबकि सरफराज अहमद और अहमद शहजाद ने भी सैकड़े जड़े। पाकिस्तान अब 1994 के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली टेस्ट श्रृंखला जीतने के लिए उसके बल्लेबाजों पर स्पिनरों का दबाव बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा लेकिन ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क ने वादा किया है कि उनकी टीम वापसी करेगी। 
 
क्लार्क ने रविवार को मिली हार के बाद कहा था, जब भी हम हारते हैं तो इससे हम जीत के प्रति अधिक प्रतिबद्ध हो जाते हैं। हमें हारना पसंद नहीं है। ऑस्ट्रेलियाइयों को अमूमन हारना पसंद नहीं है। उन्होंने कहा, हम बुरी तरह हारे और पाकिस्तान ने पांचों दिन जिस तरह का खेल दिखाया उसे इसका काफी श्रेय जाता है। हम जानते हैं कि हम काफी बेहतर खेल सकते हैं और दूसरे टेस्ट मैच में ऐसा करेंगे।
 
उन्होंने कहा, मैं हमेशा खुद से बहुत अधिक अपेक्षा रखता हूं और यह सुनिश्चित करता हूं कि मैं रन बनाऊं और इस ऑस्ट्रेलियाई टीम को सफलता दिलाऊं। मैं किसी तरह के दबाव में नहीं हूं। हमें पांचों दिन अपनी सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलनी होगी और अगर हम ऐसा कर लेते हैं तो टेस्ट मैच जीत सकते हैं। 
 
ऑस्ट्रेलिया के पास मिशेल मार्श या डूलान के स्थान पर ग्लेन मैक्सवेल को टीम में रखने का विकल्प है जो ऑफ स्पिन गेंदबाजी भी कर सकते हैं। पाकिस्तानी कप्तान मिसबाह उल हक ने अपनी टीम को ऑस्ट्रेलिया की मजबूत टीम के खिलाफ आत्ममुग्धता से बचने के लिए कहा है। 
 
मिसबाह ने कहा, हम सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलने के लिए अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेंगे क्योंकि हमारे पास कोई कमजोर टीम नहीं है। यह ऑस्ट्रेलिया है जो दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक है। हमने पिछले मैच में जो अच्छा प्रदर्शन किया उसे दोहराने की कोशिश करेंगे। हम किसी तरह की ढिलाई नहीं बरतेंगे। 
 
यदि पाकिस्तान श्रृंखला 2-0 से जीत जाता है तो वह टेस्ट रैंकिंग में तीसरे स्थान पर पहुंच जाएगा और मिसबाह ने कहा कि यह बड़ी उपलब्धि होगी। उन्होंने कहा, यदि हम अपनी भूमिकाएं अच्छी तरह से निभाते हैं तो हम अच्छा परिणाम हासिल करेंगे और यदि हम रैंकिंग में यह स्थान हासिल करते हैं तो यह अच्छा होगा। (भाषा)  



और भी पढ़ें :