#ICCHallOfFame: आईसीसी ने ट्विटर पर पोस्ट किया अनिल कुंबले का यह शानदार वीडियो

पुनः संशोधित शुक्रवार, 21 मई 2021 (16:08 IST)
आईसीसी ने हाल ही में की एक सीरीज शुरु की है। इसमें क्रिकेट के क्लासिक क्रिकेटर्स के बारे में जानकारी देने के कुछ देर बाद उनके करियर पर एक वीडियो आईसीसी के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर शेयर की जाती है।

इस ही कड़ी में भारत के महान स्पिनर, पूर्व टेस्ट कप्तान और पूर्व कोच अनिल कुंबले पर भी आईसीसी ने इस ही कड़ी में एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में अनिल कुंबले द्वारा लिए गए कुछ लोकप्रिय विकेटों की झलकियां तो दिखाई ही गयी है साथ ही कुछ पूर्व क्रिकेटरों द्वारा कुंबले के बारे में बयान भी दिखाया गया है।

इसमें न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग, पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम, श्रीलंका के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर कुमार संगाकारा और पूर्व कप्तान महेला जयवर्धने ने कुंबले को लेकर अपने अनुभव साझा किए हैं।देखिए यह वीडियो:-
अनिल कुंबले का क्रिकेट करियर


17 अक्टूबर 1970 को बेंगलुरु में जन्में अनिल कुंबले ने देश के लिए 132 टेस्ट मैच खेलकर 619 विकेट लिए जो अब तक किसी भी भारतीय गेंदबाज द्वारा लिए गए सर्वाधिक टेस्ट विकेट है। 271 वनडे में उनके नाम 337 विकेट (बेस्ट12/6) हैं। यही नहीं प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 244 मैच में उन्होंने 1136 विकेट चटखाए (बेस्ट 74/10)। कुंबले ने टेस्ट मैच में 2506 रन (बेस्ट 110 नाबाद) भी बनाए हैं।
पाकिस्तान के खिलाफ लिए टेस्ट की एक पारी में 10 विकेट

7 फरवरी 1999 को कुंबले ने पाकिस्तान के खिलाफ दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में 26.3 ओवर में 74 रन पर 10 विकेट लेकर भारत को दूसरे टेस्ट में 212 रन से जीत दिलाई थी जिससे दो मैचों की सीरीज 1-1 से ड्रॉ रही थी।

कुंबले के ऐतिहासिक प्रदर्शन के बाद कोई भी गेंदबाज पारी में 10 विकेट हासिल करने की उपलब्धि तक नहीं पहुंच सका। कुंबले के इस प्रदर्शन के बाद श्रीलंका के ऑफ स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ने 2002 में एक पारी में 9 विकेट, श्रीलंका के लेफ्ट आर्म स्पिनर रंगना हेरात ने 2014 में 9 विकेट और दक्षिण अफ्रीका के लेफ्ट ऑर्म स्पिनर केशव महाराज ने 2018 में 9 विकेट हासिल किए लेकिन कोई भी 10 विकेट पूरे नहीं कर पाया।

कोचिंग में भी कुंबले ने किया कमाल

कुंबले के कार्यकाल में ही भारतीय क्रिकेट टीम टेस्ट में नंबर एक टीम बनी थी। और भारत ने वेस्टइंडीज को उनके घर में हराने के अलावा न्यूजीलैंड, इंग्लैंड तथा ऑस्ट्रेलिया को घरेलू मैदान में हराया था। कुंबले की मेहनत का ही नतीजा था कि भारतीय टीम ने 17 टेस्ट मैच में से 12 मुकाबलों में जीत हासिल की थी जबकि 1 मैच में उसे हार का सामना करना पड़ा था जबकि 5 टेस्ट मैच ड्रॉ पर खत्म हुए थे।

20 जून 2017 के दिन लंदन में भारतीय क्रिकेट टीम के कोच अनिल कुंबले ने एक साल का कार्यकाल पूरा होते ही अपना पद छोड़ दिया जबकि बीसीसीआई चाहता था कि वे वेस्टइंडीज दौरे तक अपने पद पर बने रहें लेकिन टीम के अंदरुनी हालात इतने खराब हो गए हैं कि कुंबले ने खुद को टीम से अलग करने का ऐलान कर डाला।



और भी पढ़ें :