जहीर को विश्व कप 2015 टीम में लें : श्रीनाथ

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित मंगलवार, 22 अप्रैल 2014 (19:47 IST)
हमें फॉलो करें
FILE
नई दिल्ली। विश्व कप 2015 के लिए भारतीए टीम में को शामिल करने का समर्थन करते हुए भारत के पूर्व तेज गेंदबाज ने आज कहा कि बाएं हाथ का यह तेज गेंदबाज टूर्नामेंट के लिए अच्छी पसंद है और अगर यह तेज गेंदबाज खेलने का जुनून दिखाता है तो उसे अंतिम मौका मिला चाहिए।


आईसीसी मैच रैफरी श्रीनाथ ने कहा, जहीर विश्व स्तरीए गेंदबाज हैं। अगर उनमें जज्बा और अच्छा प्रदर्शन करने की क्षमता है तो वे अच्छी पसंद हैं। इसके लिए यह देखने की जरूरत है कि जहीर में आगे खेलने का जुनून है और क्या वे 2015 में आखिरी दांव चलना चाहते हैं तो उन्‍हें मौका मिलना चाहिए। वनडे अंतरराष्ट्रीए मैचों में 300 से अधिक विकेट चटकाने वाले एकमात्र भारतीए तेज गेंदबाज श्रीनाथ मौजूदा गेंदबाजों के समूह से खुश हैं।
श्रीनाथ ने कहा, मोहम्मद समी अच्छे गेंदबाज हैं। यहां तक कि भुवनेश्वर कुमार अच्छी तरह निखर रहे हैं। इशांत शर्मा पटरी पर वापस लौटते हुए लग रहे हैं। वे लगातार अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं। एक साल पहले वापसी के बाद उन्‍होंने काफी सुधार दिखाया है।


एक दशक से भी अधिक समय तक भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले श्रीनाथ ने कहा कि टी20 बल्लेबाजों का खेल है लेकिन अच्छे गेंदबाज हमेशा अपनी मौजूदगी दर्ज कराते हैं। श्रीनाथ के साथ इस दौरान पूर्व भारतीए तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद और पूर्व बल्लेबाज अजित वाडेकर भी मौजूद थे।

श्रीनाथ के करियर के दौरान अधिकांश समय उनके तेज गेंदबाजी जोड़ीदार रहे प्रसाद ने पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज आमिर सोहेल के खिलाफ विश्व कप 1996 की यादें ताजा कीं। सोहेल ने बेंगलुरु में विश्व कप क्वार्टर फाइनल में प्रसाद पर चौका जड़ने के बाद इशारा किया था कि वे एक बार फिर उन पर चौका मारेंगे लेकिन भारतीए गेंदबाज ने अगली गेंद पर उन्हें बोल्ड कर दिया।
भारत के पूर्व गेंदबाजी कोच प्रसाद ने कहा, आमिर के मेरे खिलाफ कुछ बोलने के बाद मैंने भी उन्‍हें कुछ कहा था, लेकिन यह विकेट चटकाना था जो इतिहास बन गया। मैंने ना सिर्फ जंग जीती बल्कि सोहेल के करियर पर हमेशा के लिए धब्बा लग गया।

प्रसाद ने कहा, यह भारत-पाकिस्‍तान मुकाबलों का अहम मोड़ भी था। इससे पहले पाकिस्तान हमेशा हम पर भारी पड़ता था लेकिन इस घटना और जीत ने भारत को चिर प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ जीत का आत्मविश्वास दिया। दूसरी तरफ वाडेकर आईपीएल सात के लिए अदालत द्वारा सुनील गावस्कर को बीसीसीआई का अंतरिम प्रमुख बनाए जाने से खुश हैं।
उन्होंने कहा, गावस्कर आदर्श हैं। वे शानदार नेतृत्वकर्ता और सच्चे खिलाड़ी हैं जिन्होंने भारतीए क्रिकेट को कई शानदार लम्हे दिए हैं। उनकी ईमानदारी पर कभी सवाल नहीं उठाया गया और हमें आधुनिक क्रिकेट के प्रभारी के रूप में उनके जैसे लोगों की जरूरत है। (भाषा)



और भी पढ़ें :