सचिन की कमजोरी है ‘वड़ापाव’

पुणे| भाषा| पुनः संशोधित रविवार, 7 अगस्त 2011 (16:48 IST)
दुनिया के गेंदबाजों की नींद उड़ाने वाले दिग्गज बल्लेबाज की भी एक कमजोरी है और वह है चटपटा ‘वड़ापाव’।

तेंडुलकर ने एक मराठी समाचार चैनल को इंग्लैंड से दिए साक्षात्कार में कहा, ‘मुझे और मेरे बेटे अर्जुन को जिमखाना में वड़ापाव खाना पसंद है और चटनी के साथ परोसे जाने वाले इस स्नैक की बराबरी कोई नहीं कर सकता।

इस दिग्गज बल्लेबाज ने युवा क्रिकेटर के रूप में अपनी ट्रेनिंग शिवाजी पार्क में ही की थी। तेंडुलकर ने कहा, ‘वड़ापाव के स्वाद से अब भी मेरे मुंह में पानी आ जाता है।’
तेंडुलकर के बचपन के दोस्त विनय यादेकर ने कहा, ‘वड़ापाव उसकी कमजोरी है। जब उसने अपना 28वां शतक बनाया था, तब एक पार्टी का आयोजन किया गया था और इस मौके पर जश्न मनाने के लिए विनोद कांबली 28 वड़ापाव लेकर आया था।’ (भाषा)


और भी पढ़ें :