बाल कविता : स्लिम बनाना है...


की तैयारी - गिरीश पण्ड्या, उज्जैन>  
 
शेरसिंह बना रहे थे 
योजनाएं कईं सारी, 
आई छुट्टी मस्ती वाली 
करना है कुछ तैयारी।
 
को अबकी बार 
रोज जिम जाना है, 
करके कसरत मेहनत वाली 
अपना वजन बढ़ाना है।
 
कौए को तो कल से ही 
म्यूजिक क्लास जाना है,
कोयल रानी के साथ मिलकर 
मधुर गीत गाना है।
 
हाथी को रहना है डायटिंग पर 
संतुलित भोजन खाना है, 
भारी-भरकम शरीर को 
स्लिम-स्लिम बनाना है। >

 



और भी पढ़ें :