अमेरिका में ट्रांसजेंडरों को मिलेगी यह बड़ी सुविधा!

वॉशिंगटन| पुनः संशोधित शुक्रवार, 13 मई 2016 (14:31 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिका की सरकार देश के सभी पब्लिक स्कूलों को निर्देश जारी करके उन्हें कहेगी कि वे छात्रों को उन शौचालयों का इस्तेमाल करने दें, जो उनकी लैंगिक पहचान से मेल खाते हैं।
 
शिक्षा एवं न्याय विभाग के अधिकारियों द्वारा हस्ताक्षरित पत्र में किसी कानूनी बाध्यता का उल्लेख तो नहीं किया गया है लेकिन इसमें एक अप्रत्यक्ष धमकी दी गई है कि जो ओबामा प्रशासन की कानून की व्याख्या का पालन नहीं करेगा, उसे मुकदमों का सामना करना पड़ सकता है या फिर वह स्कूल संघीय मदद से हाथ धो सकता है।
 
यह कदम उत्तर कैरोलीना के कथित प्रकरण पर उपजे विवाद की पृष्ठभूमि में उठाया गया है। मतभेदों के चलते उत्तर कैरोलीना राज्य और संघीय सरकार ने पिछले सप्ताह एक- दूसरे को अदालत में घसीटा।
 
ओबामा प्रशासन ने एक बयान में कहा कि अमेरिकी शिक्षा एवं न्याय विभाग ने एक संयुक्त पत्र में स्कूलों से कहा कि वे ट्रांसजेंडरों को उन शौचालयों का इस्तेमाल करने दें, जो उनकी लैंगिक पहचान से मेल खाते हों।
 
शिक्षामंत्री जॉन बी. किंग जूनियर ने कहा कि कोई भी छात्र कभी भी स्कूल या कॉलेज के परिसर में खुद को अवांछनीय न महसूस करे तथा हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हमारे युवा लोग जानते हों कि वे जो कोई भी हैं या जहां कहीं से भी आते हैं, उनके पास भेदभाव, प्रताड़ना और हिंसा से मुक्त माहौल में अच्छी शिक्षा पाने का अवसर है। 
 
संघीय सरकार की ओर से जाने वाला पत्र एक कानून नहीं है लेकिन यह स्कूलों के लिए दिशा-निर्देश जरूर है। इसका पालन न किए जाने की स्थिति में स्कूलों को मिलने वाले संघीय कोष पर असर पड़ सकता है। (भाषा)



और भी पढ़ें :