अपना क्लोन बनवाना चाहते थे जैक्सन

लंदन (भाषा)| भाषा|
अपने घर में पिछले महीने मृत पाए गए ‘किंग ऑफ पॉप’ अमर होने के विचार से बेहद रोमांचित थे और अपने फन को जिंदा रखने के लिए अपना क्लोन बनवाना चाहते थे।

‘द मिरर’ की रिपोर्ट के मुताबिक जैक्सन के ने यह रहस्योद्घाटन किया है। बोमैन के हवाले से प्रकाशित इस रिपोर्ट में कहा गया है कि अपने अजीबो-गरीब व्यवहार के कारण मीडिया द्वारा ‘वैको जैको’ कहे जाने वाले जैक्सन ने अपने मित्र यूरी गेलर के साथ लास वेगास में मानव क्लोनिंग पर आयोजित सम्मेलन में शिरकत भी की थी।

उल्लेखनीय है कि जैक्सन रायलियन मत की शिक्षा से बेहद प्रभावित थे और उन्होंने अपनी क्लोनिंग कराने के लिए इस मत के मानने वालों से सम्पर्क किया था।

रिपोर्ट के मुताबिक बोमैन ने कहा जैक्सन बेहद उत्साहित थे। क्लोनिंग पर आयोजित सम्मेलन से उत्साहित जैक्सन किसी छोटे बच्चे की तरह उछल रहे थे। वे बहुत खुश थे। कार में मैंने उन्हें और यूरी को बात करते हुए सुना था।
वर्ष 2002 में हुई इस बात के दौरान कार चला रहे बोमैन ने कहा जैक्सन अपना क्लोन बनवाने की सम्भावनाओं के बारे में बात कर रहे थे। उन्होंने यूरी को दोनों हाथों से पकड़ते हुए कहा था कि यूरी मैं वाकई ऐसा चाहता हूँ और मुझे इस पर आने वाले खर्च की जरा भी परवाह नहीं है।

बोमैन ने कहा जैक्सन अपनी विरासत को आगे बढ़ाने के लिए अपना छोटा रूप तैयार करवाना चाहते थे। उन्हें उम्मीद थी कि माइकल जैक्सन हमेशा जिंदा रह सकेंगे।
रायलियन आंदोलन नाम के एक आश्चर्यजनक धार्मिक मत की मान्यता के मुताबिक शरीर के साथ आत्मा भी मर जाती है और क्लोनिंग ही अमरत्व का एकमात्र रास्ता है।

माना जाता है कि लास वेगास में हुए सम्मेलन के बाद जैक्सन ने रायलिन के मतावलम्बियों से सम्पर्क किया था। हालाँकि उन्होंने इस मामले को आगे बढ़ाया या नहीं, यह एक रहस्य है।



और भी पढ़ें :