योग दिवस पर कविता : योग से सुंदर बनें


योग करें हम योग करें
जीवन का सदुपयोग करें

* योग से सुंदर बनें
योग से सुदृढ़ बनें
योग से ही सफल रहें
योग करें हम योग करें

* योग से मन स्वच्छ हो
योग से तन स्वस्थ हो
योग पर ना धन खर्च हो
योग करें हम योग करें

*आसनों को आजमा लें
आरोग्य का हाथ थाम लें
रोग का ना नाम लें
योग करें हम योग करें ...







और भी पढ़ें :