हिन्दी दिवस के सरलतम नारे : हिन्दी भारत माँ का वंदन है

स्मृति आदित्य|
आजकल हमारे देश में एक औपचारिकता मात्र रह गया है लेकिन आज भी कुछ संस्थानों में हिन्दी पखवाड़ा, हिन्दी सप्ताह और हिन्दी दिवस जोर-शोर से मनाया जाता है। ज्यादातर संस्थानों में प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती है। प्रस्तुत है कुछ सरलतम पंक्तियां हिन्दी दिवस के लिए...

1 * हिन्दी में निहित हमारे संस्कार
सबको हिन्दी में नमस्कार


हिन्दी सरल-सहज भाषा है
सफलता की परिभाषा है

2 *‍ हिन्दी जनसंचार का स्पंदन है
हिन्दी भारत माँ का वंदन है

3 *भारत माँ के भाल पर सजी स्वर्णिम बिन्दी हूँ
मैं भारत की बेटी, आपकी अपनी हिन्दी हूँ

4 * आंगन-आंगन हिन्दी, अक्षर संग मुस्काए
हर भाषा के साथ में फूलों सी खिल जाए

5 *जन-जन की आशा है हिन्दी
भारत की भाषा है हिन्दी
हिन्दी का सम्मान करें
दु‍निया भर में नाम करें
6 * सरल है, सुबोध है, सुंदर अभिव्यक्ति है
हिन्दी ही सभ्यता, हिन्दी ही संस्कृति है

7 * हिन्दी देश की भावना है
स्नेहिल शुभकामना है...

8 * मधुर-मधुरतम भाव है, हमारा स्वभाव है,
हिन्दी विराट वृक्ष की मीठी सघन छाँव है
9 * हिन्दी है भारत की शान आगे इसे बढ़ाना है
हर दिन, हर पल, हमको हिन्दी दिवस मनाना है

10 * हिन्दी जिसका नारा है
वह भारत हमको प्यारा है

11 *हिन्दी को सम्मान दो, हिन्दी गुणों की खान है
हर भाषा में महान है, भारत की पहचान है
12 * हम सब हिन्दी को अपनाएँ
देश-विदेश में मान बढ़ाएँ

वैज्ञानिक भाषा है हिन्दी
यह बात सबको समझाएँ...

13 * हिन्दी है जन-जन की धड़कन,
हिन्दी हमारी शान है,
हिन्द देश के वासी हैं हम,
हिन्दी हमारी पहचान है......
14 * कोटि-कोटि कंठों की मधुर स्वरधारा है
हिन्दी है हमारी, हिन्दुस्तान हमारा है ...

 

और भी पढ़ें :