0

हिन्दी में अन्य भाषा के शब्दों का आगमन : उचित या अनुचित

बुधवार,सितम्बर 2, 2015
0
1
हिन्दी। हमारी अपनी हिन्दी। हम सबकी हिन्दी। ले‍किन क्या सचमुच हमारी यह भाषा हम सबकी भाषा है? इंटरनेट के कैनवास पर अपने शब्द फूलों से खिल-खिल जाने वाली हमारी हिन्दी को लेकर इतने भ्रम, भ्रांतियां और भड़काने वाले बयान आते रहे हैं कि आजादी के इतने वर्षों ...
1
2
माननीय प्रधानमंत्री हिन्दी को वरीयता देते हैं पर उनके कार्यालय ("प्रमंका") के अधिकारियों को राजभाषा हिन्दी से कोई लेना देना नहीं है इसलिए भारत सरकार द्वारा आरंभ आम जनता की योजनाओं की जानकारी केवल अंग्रेजी में जारी कर रहे हैं और हर योजना -राजकार्य ...
2
3
जानें हिन्दी के बारे में, हिन्दी भाषा का विकास, हिन्दी भाषा का महत्व आदि के बारे में हिन्दी आलेख पर!
3
4
आपकी सोच, आपकी प्रतिभा, आपकी लगन, आपकी कड़ी मेहनत, प्रबल इच्छा शक्ति और कार्य के प्रति समर्पण यहां कोई अस्तित्व नहीं रखता। अगर किसी चीज का वजूद है तो वह है अंगरेजी बोलना। जीवन में जितने लोग आगे बढ़े हैं और स्थापित हुए हैं वह सब अंगरेजी को जानने वाले ...
4
4
5
युनेस्को ने सन् 1999 में प्रतिवर्ष 21 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस मनाए जाने की घोषणा की थी। अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस मातृभाषा दिवस को मनाने का उद्देश्य है भाषाओं और भाषाई विविधता को बढ़ावा देना, लेकिन आज हम भारतीय भाषाओं के संरक्षण और ...
5
6
क्या आप जानते हैं विश्व हिन्दी दिवस कब मनाया जाता है? आप में से अधिकांश का जवाब होगा 14 सितंबर। लेकिन नहीं यह गलत जवाब है वास्तव में विश्व हिन्दी दिवस प्रतिवर्ष 10 जनवरी को मनाया जाता है।
6
7
भारत की हिन्दी दरअसल हिन्दुस्तानी है। इसमें संस्कृत का छौंक लगाकर हिन्दी वाले इसे हिन्दी कह लें और अरबी-फ़ारसी का तड़का लगाकर उर्दू वाले उर्दू। शुद्ध हिन्दी और ख़ालिस उर्दू आमजन की भाषाएं नहीं हैं।
7
8
आपने बहुत से संस्थानों के लिफाफों पर छपा देखा होगा कि हिन्दी दुनिया की तीसरी बड़ी भाषा है जबकि हकीकत यह है कि अंग्रेजी के बाद हिन्दी ही विश्व की दूसरे नंबर पर सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा है। चीनी भाषा को दूसरे स्थान पर माना गया है पर शुद्ध चीनी ...
8
8
9

भाषा क्या है

बुधवार,जनवरी 16, 2013
जानें हिन्दी के बारे में, हिन्दी भाषा का विकास, हिन्दी भाषा का महत्व आदि के बारे में हिन्दी आलेख पर! 'कोई भाषा को ईश्वर प्रदत्त कहता है, कोई उसे मनुष्यकृत बतलाता है। कोई उसे क्रमश: विकास का परिणाम मानता है, और कोई उसके विषय में 'यथा पूर्वमकल्पयत्' ...
9
10
एक तरफ हिन्दी आगे बढ़ रही है तो दूसरी तरफ हिन्दी की कक्षा में पढ़ने वाला छात्र जब अपने शिक्षक से कक्षा में प्रवेश की अनुमति चाहता है तो कहता है "मे आई कम इन सर"। इसका दुःखद पहलू तो यह भी है कि जो लोग हिन्दी के विकास की बात करते हैं वे स्वयं भी इसका ...
10
11
फ्रेंच भाषा मादक है परंतु आकर्षक और मोहक नहीं। इटेलियन भाषा आकर्षक है परंतु मादक और मोहक नहीं। चीनी भाषा न तो मादक है, न आकर्षक और न मोहक। हिन्दी भाषा मादक भी है, आकर्षक भी है और मोहक भी है। तभी तो रूस के वरान्निकोव और बेल्जियम के बुल्के भारत आकर ...
11